DA Image
15 अगस्त, 2020|5:10|IST

अगली स्टोरी

एलआईसी कर्मी को वैन चालक ने नशीला पदार्थ खिलाकर लूटा

एलआईसी कर्मी को वैन चालक ने नशीला पदार्थ खिलाकर लूटा

बुधवार को देर शाम मारुति वैन में कानपुर से महोबा जा रहे एलआईसी कर्मी को वैन चालक ने नशीला पदार्थ पिलाकर नगदी सहित मोबाइल लूटने के बाद हाइवे में प्रेमनगर के पास बेहोशी की हालत में फेंककर फरार हो गया। होश में आने के बाद यह रात में किसी तरह से लिफ्ट लेकर इंगोहटा बस स्टाप पहुंचा और यहां पर बने यात्री प्रतीक्षालय में रात भर बेहोशी की हालत में पड़ा रहा। सुबह होश आने पर इसने बस स्टाप के दुकानदारों से आपबीती बताई और पुलिस को बगैर सूचना दिए महोबा चला गया।

कानपुर निवासी धीरेंद्र सिंह महोबा एलआईसी कार्यालय में लिपिक पद पर तैनात है। बुधवार को शाम 4 बजे यह कानपुर से महोबा जाने के लिए नौबस्ता चौराहा से एक मारुति वैन में सवार हुआ था। बकौल धीरेंद्र सिंह वैन चालक ने सजेती के पास एक ढाबे में उसे कोलड्रिक के साथ नशीला पदार्थ पिला दिया। इसके बाद वह कब बेहोश हो गया कुछ पता नहीं चला। पीड़ित ने बताया कि वैन चालक ने रास्ते में पूछतांछ के दौरान बताया था कि वैन घाटमपुर थानाक्षेत्र के कुरिया परसा निवासी गजेंद्र सिंह की है। चालक ने जेब में रखे 35 सौ नगद व मोबाइल एवं जरूरी कागजात ले गया। उसको आशंका है कि बेहोशी की हालत में उसका अंगूठा भी डिवाइस में लगाया गया है। देर शाम यह हाइवे में प्रेमनगर के पास पड़ा हुआ था। होश आने पर इसने एक बाइक सवार से लिफ्ट मांगी और इंगोहटा बस स्टाप पहुंचकर रातभर यात्री प्रतीक्षालय में बेहोशी की हालत में पड़ा रहा। सुबह बस स्टाप के दुकानदारों ने इसको जगाकर प्रतीक्षालय में लेटने का कारण पूछा तो एलआईसी कर्मी ने घटना से दुकानदारों को अवगत कराया। बाद में यह पुलिस को सूचना दिए बगैर महोबा के लिए रवाना हो गया। इंगोहटा बस स्टाप में दुकानदारों के बीच यह घटना चर्चा का विषय बनी हुई है। इंगोहटा चौकी इंचार्ज शनि कुमार चतुर्वेदी ने बताया कि घटना की जानकारी पुलिस को नहीं दी गई है। अगर तहरीर मिलती है तो जांच करके कार्यवाही की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:LIC worker was looted by the van driver after feeding him