DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आंधी-तूफान ने मचाई तबाही, दस घायल, दो रेफर

आंधी-तूफान ने मचाई तबाही, दस घायल, दो रेफर

1 / 2कल शाम आए आंधी-तूफान ने क्षेत्र में तबाही मचाई। तहसील क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर आंधी की चपेट में आकर 10 लोग घायल हुए, जबकि दर्जनों पेड़ मय जड़ के उखड़कर हवा में पतंग बन गए। तबाही का मंजर इतना भयानक...

आंधी-तूफान ने मचाई तबाही, दस घायल, दो रेफर

2 / 2कल शाम आए आंधी-तूफान ने क्षेत्र में तबाही मचाई। तहसील क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर आंधी की चपेट में आकर 10 लोग घायल हुए, जबकि दर्जनों पेड़ मय जड़ के उखड़कर हवा में पतंग बन गए। तबाही का मंजर इतना भयानक...

PreviousNext

कल शाम आए आंधी-तूफान ने क्षेत्र में तबाही मचाई। तहसील क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर आंधी की चपेट में आकर 10 लोग घायल हुए, जबकि दर्जनों पेड़ मय जड़ के उखड़कर हवा में पतंग बन गए। तबाही का मंजर इतना भयानक था कि घायलों को अस्पताल जाने तक का रास्ता नहीं मिला। सोमवार को सड़क पर पड़े पेड़ काटकर रास्ता बनाया गया तब कहीं घायल अस्पताल पहुंच सके।

बीते एक सप्ताह पूर्व आए तूफान के कहर से क्षेत्रवासी उबर भी नहीं पाए थे कि एक बार फिर रविवार को तूफान का तांडव देखने को मिला। रविवार शाम आए तूफान ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया। तूफान का सबसे ज्यादा असर ग्रामीण क्षेत्र में देखा गया जहां पर आंधी तूफान की चपेट में आकर 10 लोग घायल हो गए। मुस्करा थानाक्षेत्र के भैंसाय गांव निवासी कमला (48) पत्नी लालता प्रसाद व गुलाबरानी (60) पत्नी सुंदरलाल तूफान से टूटे पेड़ की चपेट में आकर घायल हो गईं। तूफान के जोर से कैंथा गांव निवासी अर्जुन सिंह की पुत्री मोहिनी व इटैलियाबाजा गांव निवासी चंदादेवी पत्नी प्रेमचंद्र तथा नगर के गायत्रीनगर मुहल्ला निवासी लल्लू (65) ऊंचाई से गिरकर घायल हो गया।

टूटे पेड़ की डाल के चपेट में आकर धमना गांव निवासी सोपेंद्र (28) पुत्र रघुवीर सिंह तथा बाइक से गिरकर बहादुरपुरा पनवाड़ी निवासी आशाराम (25) पुत्र हरिओम घायल हो गया। जरिया थाने के उमरिया गांव निवासी संदीप कुमार (8) पुत्र नृपत सिंह, गोहाण्ड निवासी राम सिंह (32) पुत्र भानसिंह तथा गोहाण्ड का ही देशराज (45) पेड़ की चपेट में आकर घायल हो गया। सभी घायलों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां पर रामसिंह तथा देशराज की हालत गंभीर होने पर दोनों को मेडिकल कॉलेज झांसी रेपुर कर दिया।

दर्जनों पेड़ जमींदोज, आम के पेड़ों से फल गायब

आंधी में जहां दर्जनों पेड़ टूट कर गिर गए वहीं आम के पेड़ों के फल टूटकर जमीन पर बिछ गए। चिल्ली गांव निवासी रामसिंह राजपूत ने बताया कि वह आम का बाग लगाए हैं। तूफान से दो आम के पेड़ टूट गए, जबकि चौदह पेड़ों के फल पूरी तरह से टूटकर जमीन पर बिछ गये। बताया कि इससे उसे खासी चपत लगी।

पोलों के टूटने से 45 गांवों की बिजली गुल

आंधी से सरीला फीडर के 27, गोहांड के 24 तथा मौदहा फीडर के 65 गांवों की हाईटेंशन बिजली लाइन के पोल धराशाई हो गए। इनके टूट जाने से मैन बिजली सप्लाई बाधित हो गई। जिससे इटायल, स्यावरी, कुम्हरिया, अमगांव, करौंदी, इटौरा, बागीपुरा, मसगवां, महजौली सहित 45 गांव की बिजली आपूर्ति पूरी तरह से ठप है। विद्युत विभाग के जेई राजू प्रसाद ने बताया कि प्रभावित गांवों में दो दिन में विद्युत व्यवस्था बहाल किए जाने का प्रयास चल रहा है। सोमवार सुबह राठ 01 की इनकमिंग केबल ब्लास्ट होने से नगर की आपूर्ति 6 घंटे तक बाधित रही।

नलकूपों के ट्रांसफार्मर हुए धड़ाम

तूफान की चपेट में आकर कई गांवों में नलकूपों पर रखे विद्युत ट्रांसफार्मर खंभे सहित टूटकर जमीन पर आ गिरे। औंता गांव निवासी जुझार सिंह ने बताया कि टोला मौजा स्थित उसके खेत में सिंचाई के लिए नलकूप लगा है। तूफान की चपेट में आकर नलकूप खंभों सहित टूटकर जमीन पर जा गिरा। इसी तरह अमगांव निवासी प्रह्लाद द्विवेदी ने बताया कि उसके खेत में लगे नलकूप का ट्रांसफार्मर तूफान की चपेट में आकर गिर गया। पीड़ितों ने मुआवजे की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hurricane strike catches up, ten injured, two referees