DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  हमीरपुर  ›  पहले टरकाया, विरोध के बाद किया भर्ती

हमीरपुरपहले टरकाया, विरोध के बाद किया भर्ती

हिन्दुस्तान टीम,हमीरपुरPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:01 PM
पहले टरकाया, विरोध के बाद किया भर्ती

हमीरपुर। संवाददाता

एनीमिया ग्रसित सुमेरपुर निवासी सपना को जिला महिला अस्पताल में भर्ती करने को लेकर सोमवार को काफी देर तक विवाद होता रहा। बुंदेलखण्ड रक्तदान समिति और कोविड फाइटर्स ग्रुप ने इस महिला के लिए ब्लड का भी इंतजाम किया था। छुट्टियों पर घर आए नौसेना के जवान ने महिला को एक यूनिट ब्लड भी डोनेट किया था। काफी विवाद के बाद महिला को अस्पताल में भर्ती करके ब्लड चढ़ाया गया। बता दें कि कल रविवार को सुमेरपुर निवासी सपना पत्नी राजा तबियत बिगड़ने पर जिला अस्पताल आई थी। बच्चेदानी में इंफेक्शन की वजह से उसकी हालत खराब थी। जांच में सपना के शरीर में महज 1.6 ग्राम हीमोग्लोबिन की पुष्टि हुई तो डॉक्टरों ने इलाज से हाथ खड़े कर उसे रेफर कर दिया था। सपना की मदद कोबुंदेलखण्ड रक्तदान समिति के अध्यक्ष अशोक निषाद गुरू और कोविड फाइटर्स ग्रुप के सदस्य जुनैद अस्पताल पहुंच गए थे। जिन्होंने सपना का प्राइवेट पैथालॉजी में अल्ट्रासाउंड और सीबीसी जांच करवाई थी और कुछ आर्थिक मदद दी थी। दो यूनिट ब्लड का भी इंतजाम किया था। सोमवार को सपना को जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया जाना था, मगर आज पुन: फिर से उसे कानपुर ले जाने की सलाह देकर टरकाने का प्रयास किया गया। जिसके चलते यहां विवाद की स्थिति पैदा हो गई। बुंदेलखण्ड रक्तदान समिति और कोविड फाइटर्स ग्रुप के तमाम लोग मौके पर पहुंच गए। सीएमएस डॉ.फौजिया अंजुम नोमानी से वार्ता के बाद सपना को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

नौसेना के जवान ने एक यूनिट ब्लड डोनेट किया

उधर, सुमेरपुर निवासी नौसेना के जवान मुकेश ने सपना की जान बचाने को लेकर एक यूनिट ब्लड डोनेट किया। मुकेश अवकाश पर घर आए हुए थे। आज जैसे ही उन्होंने सपना की कहानी मीडिया और सोशल मीडिया में पढ़ी वैसे ही अपने मित्र पवन के साथ ब्लड डोनेट करने जिला अस्पताल पहुंच गए। बुंदेलखण्ड रक्तदान समिति ने इस कार्य के लिए उनका आभार जताया है।

संबंधित खबरें