अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पारिवारिक कलह में दो बेटों समेत महिला ने लगाई आग, एक मासूम और मां की मौत 

देवरिया में पारिवारिक कलह के चलते बुधवार को एक महिला ने अपने दो मासूम बेटों सहित खुद को आग के हवाले कर दिया। घटना में महिला और उसके एक 14 माह के बेटे की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से झुलसे चार वर्ष के एक बेटे का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। 

सलेमपुर कोतवाली थाना क्षेत्र के डुमवलिया निवासिनी सुनीता देवी (35) पत्नी नन्हें प्रसाद ने पारिवारिक विवाद के चलते बुधवार को अपने दो मासूम बेटों सहित अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा लिया। घटना में मौके पर ही 14 माह के बेटे आदर्श की मौत हो गई। बुरी तरह से झुलसी सुनीता और उसके चार वर्ष के बेटे शुभम को आस-पड़ोस के लोग लेकर सीएचसी सलेमपुर पहुंचे। जहां से चिकित्सक ने हालत गंभीर देख दोनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

इस बीच किसी पड़ोसी ने घटना की जानकारी सुनीता के पति नन्हें को दी। सूचना मिलते ही वह बदहवाश हाल में जिला अस्पताल पहुंचा। जहां उपचार के दौरान सुनीता ने भी दम तोड़ दिया। गंभीर रुप से झुलसे शुभम का जिला चिकित्सालय में इलाज चल रहा है। उसकी हालत भी नाजुक बतायी जा रही है। घटना के बाबत पूछने पर पति नन्हें प्रसाद ने बताया कि बुधवार की सुबह व घर से नास्ता करके सलेमपुर मजदूरी के लिए निकला था। घर पर पिता कतवारु प्रसाद के साथ पत्नी व बच्चे थे।

उसने बताया कि कभी कभार घर में झगड़ा हो जाता था आज कुछ नहीं हुआ है। घटना कैसे हुई मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है। उसकी शादी पांच वर्ष पूर्व गौरीबाजार थाना क्षेत्र के बैरागी टोला में विक्रम प्रसाद की बेटी से हुई थी।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Woman burnt herself in domestic dispute in Deoria