Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple - गोरखनाथ मंदिर में सीएम योगी का जनता दरबार, फरियादियों की सुनी समस्याएं DA Image
11 दिसंबर, 2019|3:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखनाथ मंदिर में सीएम योगी का जनता दरबार, फरियादियों की सुनी समस्याएं

Gorakhpur: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple

1 / 3Gorakhpur: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple

Gorakhpur: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple

2 / 3Gorakhpur: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple

My husband gave me Triple Talaq over the phone and also threatened to kill me. A law should be made

3 / 3My husband gave me Triple Talaq over the phone and also threatened to kill me. A law should be made to stop this. Today, I have come to CM's Janta Darbar, so, I can narrate my story to him: Triple Talaq victim from Ramapur

PreviousNext

मुख्यमंत्री ने मंगलवार की सुबह गोरखनाथ मन्दिर में तीन चरणों में 300 से अधिक फरियादियों की पीड़ा सुनी। सुनवाई के दौरान उपस्थित अधिकारियों को कुछ समस्याओं के त्वरित समाधान का निर्देश दिया तो कुछ शिकायतों को लखनऊ कार्यालय प्रेषित करने का निर्देश दिया।


चुनाव प्रचार के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जौनपुर निकलना था। भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष उपेंद्र दत्त शुक्ल को भी उनके साथ ही रवाना होना था, इसलिए वे भी मंदिर पहुंच गए थे। लेकिन मुख्यमंत्री रवाना होने के कुछ समय पूर्व तक फरियादियों से मुलाकात करते रहे। फरियादियों से मिलने का सिलसिला सुबह 6.30 बजे से शुरू हुआ। इसके पूर्व मुख्यमंत्री 5.30 मंदिर परिसर भ्रमण के लिए निकले। गुरु गोरखनाथ एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की पूजा अर्चना के पश्चात गौशाला भी गए।

गौशाला में उन्होंने 30 मिनट का वक्त विताया। इस दौरान द्वारिका तिवारी, अजय सिंह, अमित सिंह, वीरेंद्र सिंह, दुर्गेश बजाज, डंडाबाबा, विनय गौतम समेत अन्य भी उपस्थित रहे।  6.30 बजे वह उन फरियादियों के बीच पहुंच गए। सर्द मौसम के बाद भी काफी संख्या में फरियादी सुबह ही मंदिर पहुंच गए थे।10.50 बजे योगी जौनपुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करने के लिए निकले, लेकिन इस बीच तीन बार उन्होंने बारी में मंदिर में उपस्थित सभी फरियादियों की समस्या सुनी।

सीएम पुराना गोरखपुर के बूथ पर करेंगे मतदान


बुधवार की सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं मंदिर में रहने वाले साधु वार्ड संख्या 68 पुराना गोरखपुर के मतदान केंद्र कन्या प्राइमरी पाठशाला के मतदान स्थल 698 पर महापौर और सभाषद के लिए मतदान करेंगे। उसके पश्चात 10.40 बजे से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इलाहाबाद एवं वाराणसी के लिए रवाना हो जाएंगे। वहां उन्हें निकाय चुनाव के लिए दोनों  जनपदों में तीन-तीन सभाएं करनी हैं। मुख्यमंत्री वाराणसी में ही रात्रि विश्राम भी करेंगे।

सीएम साहब: बकाया वेतन दिलाईए
मुख्यमंत्री से बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर के बाल रोग विभाग की 10 स्टाफ नर्सों ने मुलाकात की। उन्होंने बताया कि एनएचएम स्टाफ नर्स के रूप में 2012-13 से कार्यरत रहीं। एक फरवरी 2017 को मौखिक आदेश पर कार्यमुक्त कर दिया, सितम्बर 2016 से वेतन भी नहीं मिला। सीएम की गुहार पर उन्हें 9 अगस्त से बहाल किया गया लेकिन वेतन नहीं मिला। उन्होंने बताया कि इसकी शिकायत उन्होंने मेडिकल कालेज के प्राचार्य और जिलाधिकारी से भी दो बार की है। सीएम ने जल्द ही वेतन दिलाने का आश्वासन दिया।

हत्यारों पर सख्त कार्रवाई की गुहार
विश्व शौचालय दिवस के दिन रविवार को पिपराइच के ईस्लामपुर गांव में शौचालय के गड्ढे की जमीन को लेकर पड़ोसियों ने 56 साल विश्राम यादव की हत्या कर दी थी। मंगलवार को मुख्यमंत्री के पास विश्राम यादव की पत्नी मालती देवी और उनके पुत्र राभजन यादव एवं संतोष यादव ने गोरखनाथ मंदिर में सीएम से मुलाकात की। पास खड़े पुलिसकर्मियों ने सीएम को बताया कि वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। सीएम ने जल्द से जल्द सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर चार्जशीट दाखिल करने का निर्देश दिया। उन्होंने पीड़ित को आश्वासन भी दिया।

सीएम साहब रेहड़ी लगानी है
कैम्पियरगंज से आए 32 वर्षीय दिव्यांग मूल्लू मुख्यमंत्री से रेहड़ी लगाने का इंतजाम करने की गुहार लिए मिले। मुख्यमंत्री ने उन्हें निर्देश दिया कि जिलाधिकारी को लिखित आवेदन करें। उन्हें स्वरोजगार के लिए ऋण दिलाने का प्रयास किया जाएगा। मूल्लू ने मदरसे से दसवीं तक शिक्षा हासिल की है। उसने बताया कि दो बच्चों की पढ़ाई लिखाई में काफी दिक्कतें आ रही हैं। मुख्यमंत्री से मिलने के बाद वे उत्साहित दिखे।

तीन बेटियां लेकर कहां जाऊ सीएम साहब
स्पोर्टस कालेज के निकट हमीदुल्लाहनगर अपनी ससुराल में रहने वाली साबिया खातून ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई कि उनकी 2009 में निकाह हुआ लेकिन पति की कैंसर के कारण 30 जुलाई को मौत हो गई। लेकिन उसके बाद तीन मासूम बेटियों के साथ ससुर और परिवार के लोगों ने उन्हें घर ने निकाल दिया। बिलखते हुए उन्होंने कहा कि तीन बेटियों को लेकर कहां जाएं। मुख्यमंत्री ने पुलिसकमिर्यों को जरुरी कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

जनता दरबार में रामपुर से आई एक फरियादी ने बताया की मेरे पति ने मुझे फोन पर तीन तालाक दिया है और मुझे जान से मारने की भी धमकी दी है। यही फरियाद लेकर मैं मुख्यमंत्री योगी से मिलने आई हूँ.  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds Janta Darbar at Gorakhnath Temple