DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानवता के लिए करें सेलेब्रेटी स्टेट्स का उपयोग: सुखविंदर


मानवता के लिए करें सेलेब्रेटी स्टेट्स का उपयोग: सुखविंदर

इंसान की कामयाबी में काबलियत का हाथ जरूर होता है लेकिन सबसे बड़ा हाथ किस्मत का होता है। ‘चक दे इंडिया, ‘जय हो, ‘कर हर मैदान फतेह जैसे गीत अगर मैं ढूंढने जाता तो मुझे गाने को शायद न मिलते लेकिन ये गीत मुझे किस्मत से मिले और इंडस्ट्री मेरा कद बढ़ा। ये बात तीन बार नेशनल अवार्ड जीतने वाले मशहूर गायक सुखविंदर सिंह ने कही।

सुखविंदर 11 जनवरी से शुरू हो रहे गोरखपुर महोत्सव में उद्घघाटन संध्या में अपनी प्रस्तुति देने के लिए गुरुवार को ही गोरखपुर पंहुच गये। ‘हिन्दुस्तान से खास बातचीत में सबसे पहले सुखविंदर सिंह ने गोरखपुर को सलाम किया। सुखविंदर ने कहा कि सेलेब्रटी स्टेट्स कलाकार के सिर पर नहीं चढ़ना चाहिए बल्कि इस स्टेट्स का उपयोग मानवता के लिए करना चाहिए। जो जमीन से जुड़ा होता है वो दर्शकों के दिलों में रहता है।

अटल बिहारी बाजपेई ने भी कहा था कि सबसे ऊंचा पहाड़ा सबसे ज्यादा अकेला रहता है। उन्होंने कहा कि जो बात सच होती है और गीत के माध्यम से सामने आती है तो वह हर किसी को अच्छी लगती है। मेरे गीतों के सभी अल्फाज सच के करीब है इसलिए लोगों की बेपनाह मोहब्बत मिलती है। सुखविन्दर ने कहा कि अच्छी पोएट्री, अच्छा परफार्मर और अच्छा गायक ही म्यूजिक की सही परिभाषा है जो गीत को हिट और सुपरहिट के साथ लोगों के दिलों में बसा देते हैं।

गाना पैसों के लिए नहीं गाता

सुखविन्दर सिंह कहते हैं कि वो गाना कभी पैसों के लिए नहीं गाते हैं। गाना एक एहसास है जो सिर्फ मनोरंजन का साधन नहीं है बल्कि एक सबक है। गीतों के माध्यम से हम लोगों कभी मोहब्बत, कभी देशभक्ति तो कभी निराशा से बाहर निकलने का संदेश देते हैं। ये भी एक प्रकार की समाज सेवा है और हर गायक को इसी का अनुसरण करना चाहिए।

आरडी बर्मन के गीत गाने की तमन्ना

गायक सुखविन्दर सिंह आरडी बर्मन के बड़े प्रशंसक है और उनकी तमन्ना है कि वो आरडी बर्मन के कुछ गीतों को अपनी आवाज में गायें। उन्होंने कहा कि जब भी गाऊंगा तो उसमें म्यूजिक डायरेक्टर के एक नहीं दो नाम होंगे। पहला नाम आरडी बर्मन का होगा और दूसरा वो जो दोबारा इस पर मेहनत करेगा। सुखविन्दर सिंह ने सलमान खान की अपकमिंग फिल्म ‘भारत में भी आवाज दी है और उन्होंने कहा कि सलमान खान की ये बेस्ट म्यूजिकल फिल्म होगी। इसके अलावा सुखविन्दर सिंह की आवाज ‘एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा , ‘72 आवर्स, ‘चीट इंडिया, ‘सोन चिरैया जैसी फिल्मों में भी सुनने को मिलेगी।

कला मरने के दोषी मेंटर

रियलिटी शो में सिंगर आते हैं, कुछ वक्त कमाल करते हैं लेकिन एक समय के बाद वो गायब हो जाते हैं। सुखविन्दर सिंह इसके पीछे वजह कलाकार को नहीं बल्कि उनको तराशने वाले, उनका पालन पोषण करने वाले मेंटर को मानते हैं। सुखविंदर ने कहा कि जो समय रियाज करने का होता है उस उम्र में वो स्टार बन जाते हैं और अभिभावक एक के बाद एक शो बच्चे को करने देते हैं। इससे उसकी कला एक समय बाद मर जाती है। अभिभावकों को चाहिए कि अपने स्टार बच्चे को मध्यम गति से आगे बढ़ने दे वो हमेशा कामयाब रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Use your celebrity status for humanity said Sukhvinder