DA Image
22 अप्रैल, 2021|2:21|IST

अगली स्टोरी

निजीकरण के खिलाफ हड़ताल का ऐलान, 15 और16 मार्च को बंद रहेंगे बैंक

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने निजीकरण के खिलाफ 15 और 16 मार्च को दो दिवसीय हड़ताल की घोषणा की है। ऐसे में अगले महीने 13 से लेकर 16 मार्च तक लगातार 4 दिन बैंक बंद रहेंगे। वित्त मंत्री ने बजट में दो और सरकारी बैंकों के निजीकरण की घोषणा की है। कौन से दो बैंक बंद किए जाएंगे। इसको लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। निजीकरण को लेकर सरकारी बैंकों के कर्मचारियों में डर का माहौल बन गया। इसकी वजह यह है कि इस निजीकरण का शिकार बड़े से लेकर छोटा तक कोई भी बैंक हो सकता है।

 

सरकार की इस घोषणा के विरोध में यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने 15 और 16 मार्च को दो दिनों की हड़ताल का ऐलान किया है। इसके पहले 13 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार व 14 मार्च को रविवार होने की वजह से बैंक वैसे ही बंद रहेंगे। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन गोरखपुर शाखा के कन्वीनर केके तिवारी का कहना है कि इसके पहले सरकार आईडीबीआई बैंक का साल 2019 में निजीकरण कर चुकी है। पिछले चार साल में 14 सरकारी बैंकों का विलय भी हो चुका है।

 

वहीं बजट में दो बैंकों को बंद करने की घोषणा की है। सरकार की इस घोषणा का बैंक कर्मचारी पुरजोर विरोध करेंगे। इसी क्रम में 15 और 16 मार्च को बैंकों में हड़ताल की घोषणा की गई है। गोरखपुर के सभी सरकारी बैंक इन दोनों दिन बंद रहेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:two day strike against privatization in gorakhpur banks will be closed on 15th and 16th march