ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरलिफ्ट से कचरे की ढुलाई, ट्रेन में ईंट जोड़कर टेबल बनाई

लिफ्ट से कचरे की ढुलाई, ट्रेन में ईंट जोड़कर टेबल बनाई

ढुलाई का वीडियो वायरल -रेल मंत्रालय को ट्वीट के बाद हरकत में अफसर, शुरू कराई जांच -उदयपुर-कामख्या ढुलाई का वीडियो वायरल -रेल मंत्रालय को ट्वीट के...

लिफ्ट से कचरे की ढुलाई, ट्रेन में ईंट जोड़कर टेबल बनाई
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरThu, 30 Mar 2023 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

-गोरखपुर जंक्शन की लिफ्ट से कचरे की ढुलाई का वीडियो वायरल

-रेल मंत्रालय को ट्वीट होने के बाद हरकत में अफसर, शुरू कराई जांच

-उदयपुर-कामख्या एक्सप्रेस के गार्ड वैन का हाल, टूटे टेबल से चल रहा काम

-टेबल का पैर टूटने से ईंट का आधार बनाकर चला रहे हैं टेबल का काम

-गार्ड का डर कहीं एक ईंट भी निकला तो लिखते वक्त गिर सकती है सारी ईंटें

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता

विश्वस्तीय सुविधाओं के दावे के बीच गोरखपुर रेलवे जंक्शन पर लिफ्ट से कचरा ढोए जाने का वीडियो और एक ट्रेन के गार्ड कोच में ईंट के पाये पर खड़े टेबल की तस्वीरें वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया है। हालांकि 'हिन्दुस्तान' इस वीडियो या तस्वीर की पुष्टि नहीं करता है। एक यात्री ने रेल मंत्रालय को ट्वीट करते हुए इस अव्यवस्था पर ध्यान दिलाया। मामले में कार्रवाई किए जाने का आदेश हुआ है।

इस बीच गार्ड एसोसिएशन ने गार्ड कोच में ईंट के पाये पर खड़े टेबल को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है। एसोसिएशन का कहना है कि ऐसी लापरवाही से न सिर्फ कोई गार्ड घायल हो सकता है बल्कि ट्रेन संचालन भी प्रभावित हो सकता है।

लिफ्ट से कचरा ढोए जाने का वीडियो गोरखपुर जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक का बताया जा रहा है। जबकि टेबल को ईंट के बेस पर रखे जाने की तस्वीर उदयपुर-कामख्या वाया गोरखपुर एक्सप्रेस के गार्ड कोच की बताई जा रही है। दोनों मामलों में एक्शन के लिए आदेश हुआ है।

आल इंडिया गार्ड काउंसिल के जोनल महामंत्री शीतल प्रसाद का कहना है कि एक तरफ हाईटेक बोगियों और तेज रफ्तार ट्रेनों की बात तो हो रही है वहीं दूसरी ओर गार्ड कोच में एक टेबल तक की बेहतर व्यवस्था नहीं है। यदि उसका आधार टूट गया तो उसे बनवा देना चाहिए था न कि ईंट का ढेर लगाकर काम चलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि एक भी ईंट निकल गई तो ईंट का पूरा ढेर गार्ड के पैर के ऊपर गिर सकता है। इससे गार्ड तो घायल होगा ही साथ ही ट्रेन का संचलन भी प्रभावित होगा। ट्रेन संचलन के दौरान एक-एक पल बहुत ही एकाग्रता से काम करना होता है। ऐसे में हर गार्ड रूम की व्यवस्था बेहतर होनी चाहिए। इस अव्यवस्था को लेकर जोधपुर डीआरएम ने कार्रवाई के निर्देश जारी किए हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।