To save children from encephalitis campaign must be started now Dr RN Singh - इंसेफेलाइटिस से बच्चों को बचाने के लिए अभी से छेड़ना होगा अभियान: डा.आर.एन.सिंह DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंसेफेलाइटिस से बच्चों को बचाने के लिए अभी से छेड़ना होगा अभियान: डा.आर.एन.सिंह

इंसेफेलाइटिस उन्मूलन अभियान के चीफ कैम्पेनर डा.आर.एन.सिंह ने चेताया है कि इस साल बच्चों को इंसेफेलाइटिस से बचाना है तो अभी से अभियान छेड़ना होगा। सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उन्होंने इंसेफेलाटिस उन्मूलन के लिए चार साल पहले बने राष्ट्रीय कार्यक्रम को लागू कराने के लिए केंद्र सरकार से बात करने की मांग की। 

उन्होंने कहा कि पोलियो और स्मॉल पाक्स का उन्मूलन राष्ट्रीय कार्यक्रम के जरिए ही सम्भव हो पाया। इंसेफेलाइटिस भी राष्ट्रीय कार्यक्रम के जरिए ही जाएगी। बीमारी की रोकथाम के लिए जनवरी से ही उपाय शुरू किए जाने चाहिए। डा.सिंह ने कहा कि लम्बे अरसे के बाद केंद्र और प्रदेश में एक ही राजनीतिक दल की सरकार बनी है। इसका लाभ पूर्वी उत्तर प्रदेश के मासूमों को मिलना चाहिए। इधर, जापानी इंसेफेलाइटिस के बढ़े मामलों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि रोकथाम के लिए बच्चों को निश्चित अंतराल पर कम से कम दो बार टीके लगने चाहिए। सूअरबाड़ों को आबादी से दूर करने, फागिंग पर जोर दिया जाना जरूरी है। 

एंट्रोवायरल इंसेफेलाइटिस से बचाव के लिए सुरक्षित पेयजल की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके लिए हर दस घर पर इंडिया मार्क टू हैंडपम्प लगना चाहिए। सरकार शौचालयों का निर्माण सक्रियता से करा रही है। इसके बहुत अच्छे परिणाम आएंगे। लोगों को तत्काल पेयजल मिले इसके लिए ‘होलिया माडल आफ वाटर प्यूरिफिकेशन’ को प्रयोग में लाया जा सकता है।

स्क्रब टायफस की रोकथाम के लिए झाड़ियों का प्रबंधन, बच्चों को वहां से जाने से रोकना और व्यक्तिगत स्वच्छता अपनाना महत्वपूर्ण है। इसका कारगर इलाज भी उपलब्ध है। डा.सिंह ने कहा कि इन उपायों पर सरकार अभी से अमल शुरू कर दे तो कोई कारण नहीं कि इंसेफेलाइटिस पर पूरी तरह लगाम न लग जाए।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:To save children from encephalitis campaign must be started now Dr RN Singh