DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शावकों के साथ घूम रही बाघिन ने किसान को दौड़ाया, कुदाल लेकर दौड़ी पत्नी तब बची जान

Tigers, Bahraich

कुशीनगर के खड्डा क्षेत्र के ग्राम रामपुर गोनहा के सरेह में अपने दो शावकों के साथ घूम रही बाघिन ने खेत में गये एक व्यक्ति को दौड़ा दिया। उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर खेत मे काम कर रही उसकी पत्नी कुदाल लेकर लोगों के साथ उधर दौड़ी, तब जाकर उसके पति की जान बच सकी। इस घटना के बाद गांव के लोगों मे दहशत है। लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान रामकृपाल कन्नौजिया ने इसकी सूचना वन क्षेत्राधिकारी को दी। मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम बाघिन व शावकों की खोजबीन कर रही है।
कुशीनगर जिले के खड्डा क्षेत्र से सटे महराजगंज जिले का गेडहरुवा जंगल पड़ता है। इस जंगल मे सोहगीबरवा ब्याघ्र परियोजना सहित बसूली जंगल से जगंली जानवर भटकर पहुंच जाते हैं। इसी जंगल से विचरण करते हुए जंगली जानवर खड्डा क्षेत्र के सरेह में पहुंच जाते हैं। कुछ माह पूर्व दो तेंदुओं ने खड्डा क्षेत्र के ग्राम सिसवा गोपाल, लक्ष्मीपुर, पडरहवा, पकड़ी, खड्डा कस्बे सहित तुर्कहा, गंगवाछापर में जमकर उत्पात मचाया था। इनके हमले से आधा दर्जन लोग भी घायल हुए थे। वन विभाग की टीम उन्हें पकड़ने के लिए सरेह की खाक छानती रही, लेकिन वे वनकर्मियों के हाथ नहीं आये तो वनकर्मी थक हारकर बैठ गये।
कुछ दिनों तक शांत रहे इस क्षेत्र में एक बार फिर लोगों में दहशत का माहौल है। रामपुर गोनहा निवासी इद्रीश की पत्नी तसीबुन के अनुसार वह सरेह में स्थित राजमंगल के खेत में बकरी चरा रही थी। इसी दौरान बाघिन व उसके दो शावको ने उसके बकरियों के झुंड पर हमला कर दिया। लेकिन उसके साथ रहे लोग उधर डंडा-लाठी लेकर दौड़े तो वे गन्ने की खेत में घुस गये। घर लौटने पर उन्होंने सरेह में बाघिन व उसके बच्चों के विचरण करने की बात ग्रामीणों से बताया, लेकिन ग्रामीणों ने इस पर ध्यान नहीं दिया।
रविवार को रामपुर गोनहा झंगटौली टोला निवासी बहादुर व उसकी पत्नी पुष्पा सरेह में स्थित डीह के समीप अपने खेत मे धान की फसल की गुड़ाई करने गये थे। इसी दौरान बहादुर बगल के गन्ने के खेत में चला गया। कुछ दूरी पर किसी के गुर्राने की आवाज सुनकर बहादुर उधर देखने के लिए मुड़ा तो बाघिन व दो शावकों को देख उसके होश उड़ गये। वह चिल्लाते हुए भागने लगा, तो बाघिन ने उस पर छलांग लगा दी। लेकिन वह बाघिन से बचते हुए जमीन पर गिर पड़ा। तब उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर पत्नी पुष्पा व आसपास के लोग कुदाल, खुरपी व डंडा लेकर वहां पहुंच गये। काफी संख्या मे लोगों को देख बाघिन अपने शावकों के साथ गन्ने के खेत में घुस गई। इस संबंध में वन रेंजर खड्डा टीएन तिवारी ने बताया कि ग्राम प्रधान द्वारा सरेह मे बाघिन व उसके दो शावकों के होने की सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर भेजी गयी है। लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tigers ran a farmer working in the farm