DA Image
3 मार्च, 2021|8:45|IST

अगली स्टोरी

प्लेटफार्म पर लगे तीन बॉटल क्रशर मशीन, काम शुरू

बीते सप्ताह गोरखपुर आईं बॉटल क्रशर मशीनें प्लेटफार्म नम्बर एक, दो और नौ पर शनिवार को लगा दी गईं। मशीन लगते ही इसने काम करना भी शुरू कर दिया। स्टेशन डायरेक्टर धीरेन्द्र कुमार, प्रबंधक पीके अस्थाना, सीसीआई डीके श्रीवास्तव और आईआरसीटीसी मैनेजर संजीव गुप्ता ने बॉटल डालकर मशीन का सफल ट्रायल किया। मशीन को यात्रियों के लिए खोल दिया गया है। मशीन एक बार में करीब 150 बॉटल क्रस यानी नष्ट कर सकेगा। इसके इसे खाली करना होगा फिर दूसरे बॉटल क्रस होंगे। मशीन को लगाए जाने के साथ ही जगह-जगह सूचना चस्पा कराई जा रही है कि बॉटल का प्रयोग करने के बाद उसे क्रसर मशीन में डाल दें।

स्टेशन डायरेक्टर और प्रबंधक ने बॉटल डालकर किया सफल ट्रायल
इस मशीन के लग जाने से इस्तेमाल की हुई बॉटल का दोबारा नहीं किया जा सकेगा प्रयोग

रेलवे ने आए तीन मशीनों में एक प्लेटफार्म नम्बर एक पर स्थित पर्यटन सूचना केन्द्र के पास, दूसरी मशीन प्लेटफार्म नम्बर दो पर बने एसी लाउंज के पास और तीसरी मशीन प्लेटफार्म नम्बर 9 पर पराग दूध स्टॉल के पास लगवा दिया है। प्रयोग बोतलों के दोबारा प्रयोग पर रोक के लिए पहल रेलवे स्टेशनों व ट्रेनों में बोतलबंद पानी का खासा इस्तेमाल होता है। यात्री द्वारा फेंकी गई खाली बोतलों का दुरुपयोग अवैध वेंडर करते हैं। वे इन बोतलों में नल का पानी भरकर यात्रियों को बेचते हैं। जिसके पीछे पूरा रैकेट है और गर्मियों में खासतौर पर सक्रिय रहता है।
साफ-सफाई भी रहेगी
क्रसर मशीन के आ जाने से प्लेटफार्मों पर फेंके गए बॉटल नहीं दिखेंगे। इससे साफ-सफाई तो रहेगी लोगों को शुद्ध पानी भी मिल सकेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Three Bottle Crusher Machines on the Platform Starting Work