DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गोरखपुर › कुसम्ही कोठी में युवक को दौड़ाकर पीटा, फायरिंग भी की
गोरखपुर

कुसम्ही कोठी में युवक को दौड़ाकर पीटा, फायरिंग भी की

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 04:50 AM
कुसम्ही कोठी में युवक को दौड़ाकर पीटा, फायरिंग भी की

कुसम्ही बाजार। हिन्दुस्तान संवाद

खोराबार इलाके के कुसम्ही कोठी के पास सोमवार की रात युवक को दौड़ाकर मनबढ़ों ने पीटा और फायरिंग की। बताया जा रहा है कि मनबढ़ों के ग्रुप महाकाल ने वर्चस्व कायम करने के लिए इस वारदात को अंजाम दिया है। घटना की सूचना पर पहुंची खोराबार पुलिस ने मौके से 32 बोर खोखा बरामद किया है। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया था, जिन्हें छोड़ दिया गया।

जानकारी के मुताबिक, कुसम्ही कोठी निवासी राजवीर का गांव के ही पास के ही एक युवक से विवाद हो गया। वह मनबढ़ों के ग्रुप महाकाल से जुड़ा हुआ है। इसकी जानकारी होने पर ग्रुप के लोग सोमवार की रात एकत्र हो गए। राजवीर घर से निकला था कि बदमाशों ने घेर लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी। जान बचाने को भागा तो मनबढ़ों ने पिस्टल से फायरिंग भी की। भागकर राजवीर ने जान बचाई और फिर इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पाते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और जांच पड़ताल शुरू कर दी। पुलिस को मौके से एक पिस्टल का खोखा बरामद कर जांच शुरू कर दी है।

पिता राजेश की तहरीर पर तीन के खिलाफ केस

मारपीट और फायरिंग की घटना में पिपराइच के सिंघौली निवासी बंटी, खोराबार के रूदलापुर के टोला मथुरवा निवासी रामकेश इसी क्षेत्र के नटवा निवासी दीपक और महराजगंज जिले के श्यामदेउरवा के नटवा टोला भरटोलिया निवासी अंकित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करिाया है। पिता का आरोप है कि रूदलापुर पुलिया के पास उनके बेटे के ऊपर मनबढ़ों ने फायरिंग की है। सूचना पाकर एसआई राधेश्याम सेहरा रात में ही मौके पर पहुंचे और मौके पर एक खोखा बरामद किया था। थाना प्रभारी राहुल कुमार सिंह ने बताया कि नामजद आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

मनबढ़ों ने बनाया है महाकाल ग्रुप

मनबढ़ों ने महाकाल नामक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है। इस ग्रुप में जुड़े युवक कहीं भी विवाद करते हैं तो अपने ग्रुप में सूचना प्रसारित करते और ग्रुप के युवक तत्काल मौके पर पहुंच कर गुंडागर्दी शुरू कर देते हैं। झंगहा इलाके में खोराबार के दो युवकों की हत्या के बाद यह ग्रुप सामने आया था। पुलिस ने इसमें कार्रवाई भी की थी लेकिन एक बार फिर यह ग्रुप सक्रिय हो गया है।

संबंधित खबरें