DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गोरखपुर › वाइस सैम्पल से सुलझेगी व्यापारी से 20 लाख की रंगदारी की गुत्थी
गोरखपुर

वाइस सैम्पल से सुलझेगी व्यापारी से 20 लाख की रंगदारी की गुत्थी

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Wed, 22 Sep 2021 04:21 AM
वाइस सैम्पल से सुलझेगी व्यापारी से 20 लाख की रंगदारी की गुत्थी

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता

कौड़ीराम के मिठाई व्यापारी से 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने की गुत्थी अब आवाज की जांच से सुलझाने की तैयारी में पुलिस जुट गई है। इसके लिए मजिस्ट्रेट से अनुमति लेकर जेल में बंद टिक्का सिंह का वाइस सैम्पल लेने की तैयारी में पुलिस लगी है। टिक्का सिंह पर ही जेल से फोन कर व्यापारी से रंगदारी मांगने का आरोप है। ऐसे में फोन से रंगदारी मांगने वाले की और टिक्का सिंह की आवाज की जांच होगी। इससे साफ होगा कि दोनों एक ही आवाज है या फिर अलग।

बांसगांव थाना क्षेत्र के जयंतीपुर निवासी स्वदेश मिश्रा की कौड़ीराम चौराहा पर मिठाई की दुकान है। 15 अगस्त की दोपहर में उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को तिहरे हत्याकांड के आरोपित सन्नी सिंह का भाई टिक्का सिंह बताते हुए 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। रुपये न देने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी।

व्यापारी की तहरीर पर अज्ञात नंबर धारक के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस छानबीन कर रही है। सर्विलांस की मदद से चल रही छानबीन में जेल के मोबाइल टॉवर से रंगदारी के लिए फोन आने की पुष्टि होने पर डीएम व एसएसपी ने जेल में छापा डाला था।

हाई सिक्योरिटी बैरक में है टिक्का

टिक्का के नाम पर व्यापारी से 20 लाख रुपये मांगे जाने की बात सामने आने पर जेल प्रशासन ने उसके खिलाफ चौकसी बढ़ा दी। टिक्का सिंह को हाई सिक्योरिटी बैरक में रखा गया है। क्राइम ब्रांच की टीम व बांसगांव पुलिस ने बदमाश से जेल में जाकर पूछताछ की भी लेकिन उसने रंगदारी मांगने से इन्कार कर दिया। उधर, रंगदारी के लिए फोन आने के बाद पुलिस ने व्यापारी स्वदेश मिश्रा व उनके परिवार की सुरक्षा बढ़ा दी है। कौड़ीराम स्थित दुकान व घर पर 24 घंटे दो सिपाहियों की ड्यूटी लगती है। रंगदारी के लिए फोन करने वाले बदमाश के न पकड़े जाने से व्यापारी व उनका परिवार भयभीत है।

एक-दो दिन में टिक्का सिंह की आवाज का नमूना लेगी पुलिस

एसएसपी डॉ. विपिन ताडा ने कहा कि व्यापारी से रंगदारी किसने मांगी, इसकी छानबीन चल रही है। जेल में बंद टिक्का सिंह का वायस टेस्ट कराने के लिए विवेचक ने कोर्ट में अर्जी दी है। उधर, इंस्पेक्टर बांसगांव राणा देवेन्द्र सिंह ने बताया कि अनुमति मिलते ही जेल जाकर वायस सैम्पल लेकर जांच के लिए भेज दिया जाएगा।

संबंधित खबरें