DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखपुर के शहरी इलाके में शिक्षक ज्यादा बच्चे कम, ग्रामीण इलाके में उल्टा

गोरखपुर के शहरी इलाके में शिक्षक ज्यादा बच्चे कम, ग्रामीण इलाके में उल्टा

परिषदीय स्कूलों पर सरकार अरबों रुपया हर साल खर्च करती है। स्कूलों की दशा सुधरने के बजाए दिनों-दिन बिगड़ती जा रही है। बच्चों को किताब-ड्रेस और मिड-डे-मिल भले ही मुफ्त मिलता है लेकिन इतनी बड़ी रकम खर्च किए जाने के बावजूद उन्हें जरूरी और बेहतर ज्ञान नहीं मिल पा रहा है।

शहरी इलाके के स्कूलों में शिक्षकों की संख्या ज्यादा-बच्चे कम और ग्रामीण इलाके में बच्चों की संख्या ज्यादा और शिक्षक कम। इस असमानता को भी शासन-प्रशासन दूर नहीं करा पा रहा है। सरकार द्वारा हर वर्ष बेसिक शिक्षा परिषद से संचालित स्कूलों पर अरबों रुपया खर्च किया जा रहा है लेकिन उनकी दशा 5 दशक पहले जैसी थी आज भी वैसी ही है।

कुछ शिक्षकों ने अपने प्रयास से अगर स्कूलों को अत्याधुनिक बनाकर कांवेंट के बराबर ला खड़ा किया है लेकिन शासन का अरबों रुपया कहां खर्च होता है और क्या होता है! इस सवाल का जवाब शायद ही मिले। शासन और शिक्षा विभाग की सुस्ती का नतीजा है कि जिले के कुछ स्कूलों पर शिक्षकों की भरमार है तो कहीं एक या दो शिक्षक ही तैनात है।

अधिकतर शिक्षक शहर के नजदीक के ब्लाकों में तैनात होना चाहते हैं। कारण जिले के चार ब्लाक, नगर क्षेत्र, खोराबार, पिपरौली, जंगल कौड़िया, चरगांवा में आवासीय भत्ता अन्य ब्लाकों के सापेक्ष दो हजार ज्यादा मिलता है। इसका कारण भी है कि शिक्षक ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में नहीं जाना चाहते हैं।

वर्ष 1994-95 में हुआ था शिक्षकों का समायोजन

करीब 23 वर्ष पहले 1994-95 में बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षकों का समयोजन किया गया था। जिले में शिक्षकों की समानता हो गई थी। मगर दो दशक बीत जाने के बाद एक बार फिर स्कूलों में शिक्षकों की समानता बिगड़ गई है। किसी ब्लाक में शिक्षकों की संख्या ज्याद है तो किसी में कम। शिक्षा विभाग के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में शिक्षकों की संख्या कम है और शहर के नजदीक के स्कूलों में 978 शिक्षक सरप्लस हैं।

नम्बर गेम जिले के स्कूल

जिले में कुल परिषदीय स्कूलों की संख्या - 2986

जिले में कुल परिषदीय बच्चों की संख्या - 3.15 लाख

जिले में परिषदीय शिक्षकों की संख्या - 8867

नगर क्षेत्र में स्कूलों की संख्या - 79

नगर क्षेत्र में छात्रों की संख्या - 7963

नगर क्षेत्र में शिक्षकों की संख्या - 781

ग्रामीण क्षेत्र में स्कूलों की संख्या - 2907

ग्रामीण क्षेत्र में छात्रों की संख्या - 278754

ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षकों की संख्या - 7341

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Teachers more than Students in Parishadiye Schools in Gorakhpur