DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आमी नदी केे प्रदूूूूषण के खिलाफ नगरपालिका और नगर पंचायत के खिलाफ दी तहरीर

संतकबीरनगर में आमी का जल प्रदूषित करने के मामले में आमी बचाओं मंच के अध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने कोतवाली खलीलाबाद पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। नगरपालिका परिषद खलीलाबाद और नगर पंचायत मगहर के विरुद्ध एनजीटी और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया था। निर्देश के बाद भी मुकदमा दर्ज न होने पर मंच के अध्यक्ष ने मामले में कार्रवाई के लिए तहरीर दी है।

गोरखपुर जनपद के बांसगांव थाना क्षेत्र के हरिहरपुर गांव निवासी विश्वविजय सिंह ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह आमी बचाओं संघ के अध्यक्ष हैं। आमी नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए काफी दिनों से संघर्ष किया जा रहा है। नगर पंचायत मगहर और नगरपालिका परिषद खलीलाबाद घरेलू जल व मल बिना किसी शोधन के मगहर एवं सरही नाले के माध्यम से आमी नदी में निस्तारित किया जा रहा है। इसके कारण आमी नदी खतरनाक स्तर तक प्रदूषित हो रही है।

इससे पर्यावरण संतुलन बिगड़ रहा है। मानव जीवन संकट में होने के साथ ही पशु व जलीय जीव जन्तुओं के मरने का क्रम जारी है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने आमी नदी में किसी भी प्रकार के कचरे को डालने पर रोक लगा रखी है। पर्यावरण विभाग के निर्देश के बाद भी उक्त संस्थाओं ने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट नहीं लगाया है। इस वजह से संस्था के जिम्मेदार पर समुचित धारा में मुकदमा दर्ज किया जाना न्याय संगत है। मंच के अध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने नगर पंचायत मगहर और नगर पालिका परिषद खलीलाबाद के जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि आमी बचाओ संघ के अध्यक्ष विश्वविजय सिंह की तहरीर मिली है। प्रशासन से इस संबंध में जानकारी ली जाएगी। जो तथ्य सामने आएगा उसके अनुरुप आगे की कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tahreer given against pollution in Aami River in Santkabirnagar Kotwali