DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाने पर पथराव: 2.30 घंटे बंद रहा था वाराणसी हाईवे, अराजक हुए लोगों ने राहगीरों को भी पीटा था

गहा थाने में पथराव और तोड़फोड़ की घटना के बाद उपद्रवियों ने गोरखपुर-वाराणसी हाईवे पर भी बवाल किया। उन्होंने राहगीरों की पिटाई की और गाड़ियों के शीशे तोड़े। उपद्रव का शिकार पुलिस के अलावा राहगीर भी हुए। करीब ढाई घण्टे तक हाईवे बंद रहा। दोनों तरफ गाड़ियों की लम्बी कतार लग गई या फिर लोग रास्ता बदल कर निकलते रहे।

UP : थाने पर फेंके गए पत्थर, पुलिस ने की फायरिंग, 3 घायल, DM और DIG पहुंचे

गगहा थाने पर सुबह नौ बजे से विवाद शुरू हुआ और पथराव के बाद ग्रामीणों ने थाने के सामने ही हाईवे जाम कर दिया। उन्होंने राहगीरों पर भी अपना गुस्सा उतरना शुरू कर दिया। जो लोग मिले उनकी पिटाई की। ग्रामीणों का उपद्रव देख थाने के दोनों तरफ काफी दूर तक रास्ता खाली हो गया और एकदम सन्नाटा पसर गया। घटना के वक्त गगहा थाने में पहले से ही कम फोर्स थी। वहीं खजनी सीओ के अलावा बांसगांव, बेलीपार, सिकरीगंज सहित आस-पास के कई थाने की फोर्स पहुंच गई। ग्रामीणों की महिला, पुरुष और युवा मिलकर करीब पांच सौ की संख्या में रोड जाम किए थे और पुलिस की संख्या कम थी। लिहाजा जब तक भारी संख्या में पुलिस बल नहीं आ गई तब तक पुलिसवालों ने उन्हें हटाने की कोशिश नहीं की। साढ़े 11 बजे के करीब पुलिस ने बल पूर्वक रास्ता खाली कराया। इससे दोनों तरफ गाड़ियों की लम्बी लाइन लग गई थी। जाम समाप्त होने पर घण्टों समय लग गया। 

थाने पर पथराव: पुलिस की लापरवाही से बढ़ा बवाल, जान पर बन आई तो फायरिंग
‘‘विवाद की सूचना पर दोनों पक्षों को मंगलवार को थाने पर बुलाया गया था। एक पक्ष थाने पर पहुंचने की वजाय दीवाल गिराने लगा।  पुलिस उन्हें पकड़ कर ले आई तो उनके समर्थन में आए लोगों ने पुलिसवालों पर हमला कर दिया। अब तक 27 लोगों को हिरासत में लिया गया है। हमला करने वालों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।’’ 
शलभ माथुर, एसएसपी


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Stoning at the police station: 2 hours was closed Varanasi highway chaotic people also beaten strayers