ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरएसी की जगह लगाया स्लीपर कोच, यात्रियों ने ट्रैक पर उतरकर किया हंगामा

एसी की जगह लगाया स्लीपर कोच, यात्रियों ने ट्रैक पर उतरकर किया हंगामा

सचित्र - गुवाहाटी से जम्मू जाने वाली स्पेशल ट्रेन के यात्रियों ने गोरखपुर में...

एसी की जगह लगाया स्लीपर कोच, यात्रियों ने ट्रैक पर उतरकर किया हंगामा
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरThu, 30 May 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर, वरिष्ठ संवाददाता।
गुवाहाटी से जम्मू जाने वाली स्पेशल ट्रेन में एसी की जगह स्लीपर कोच लगाने जाए से आक्रोशित यात्रियों ने बुधवार को गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर जमकर हंगामा किया। यात्री ट्रैक पर उतर गए और वहीं धरना देने लगे। स्थिति बिगड़ते देख आरपीएफ-जीआरपी के जवानों ने उन्हें समझा-बुझाकर ट्रैक से हटाया। यात्रियों का गुस्सा फिर भी शांत नहीं हुआ और वे प्लेटफार्म पर नारेबाजी करने लगे। करीब तीन घंटे तक चले हंगामे के बाद जब स्लीपर हटाकर एसी कोच लगाया गया तब जाकर यात्री शांत हुए। करीब तीन घंटे बाद ट्रेन जम्मू की तरफ रवाना हुई। यह ट्रेन पहले से 12 घंटे की देरी से चल रही थी।

गुवाहाटी से गोरखपुर होते हुए कटरा को जाने वाली स्पेशल ट्रेन (04680) बुधवार की दोपहर 12 बजे जैसे ही गोरखपुर जंक्शन पर रुकी, ट्रेन के बी-1 (स्लीपर) कोच में सवार सभी यात्री अपने-अपने सामान के साथ प्लेटफार्म पर उतर गए और हंगामा करना शुरू कर दिया। यात्रियों ने बताया कि हमने टिकट एसी कोच का लिया था लेकिन उसे हटाकर स्लीपर कोच लगा दिया गया। रेल अधिकारियों की लापरवाही की वजह से उमसभरी गर्मी में 18 घंटे तक स्लीपर कोच में सफर करना पड़ा। कटिहार, हाजीपुर और छपरा के एसी टिकट यात्रियों ने बताया कि एसी कोच बी-1 में टिकट बुक किया था, उस कोच को ट्रेन में लगाया ही नहीं गया। इसकी सूचना न तो मोबाइल पर मिली न ही प्लेटफॉर्म पर पहुंचने के बाद इस बारे में कोई जानकारी दी गई। प्लेटफॉर्म पर पूछताछ के दौरान ट्रेन का समय हो गया और यात्री कोच में चढ़ गए। यात्रियों ने बताया कि बिहार और गोरखपुर के बीच दो जगह ट्रेन रुकी। दोनों जगह एसी कोच के बारे में पूछा गया लेकिन गार्ड और टीटीई ने कोई जानकारी नहीं दी। इसके चलते सामान लेकर ट्रेन के एक छोर से दूसरे छोर तक कई बार दौड़ना पड़ा।

यात्रियों की नाराजगी देख गोरखपुर स्टेशन प्रबंधन ने आरपीएफ और जीआरपी की मदद से स्लीपर की जगह एसी कोच लगवाया और 3:20 पर ट्रेन जम्मू की तरफ रवाना हुई।

बॉक्स

कई यात्रियों की तबीयत हुई खराब

हाजीपुर से ट्रेन में चढ़ी रश्मि जायसवाल ने बताया कि उनके पति राहुल जायसवाल को शुगर की बीमारी होने के नाते एसी कोच में टिकट बुक कराया था। यात्रा में असुविधा होने से उनकी तबीयत खराब हो गई। हाजीपुर से ट्रेन में चढ़ी यात्री रागिनी ने बताया कि बी-1 कोच के नहीं मिलने पर रेलवे हेल्पलाइन नंबर पर सूचना दी गई। इसके बावजूद जब रेल प्रशासन नहीं जगा तो हम सभी यात्रियों को गोरखपुर प्लेटफार्म पर धरना देना पड़ा। उन्होंने बताया कि कई यात्रियों की तबीयत खराब हो गई है।

बॉक्स

12 घंटे देरी से पहुंची ट्रेन

यह ट्रेन 12 घंटे की देरी से गोरखपुर जंक्शन पर पहुंची। यहां रात से ही कुछ यात्री ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। हंगामे के कारण तीन घंटे की और देरी हुई।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।