DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेपर अच्‍छा न होने से परेशान शिक्षामित्र की ब्रेन हैमरेज से मौत

पेपर अच्‍छा न होने से परेशान शिक्षामित्र की ब्रेन हैमरेज से मौत

गोरखपुर के सहजनवा क्षेत्र के बनगांवा प्राथमिक विद्यालय पर तैनात शिक्षामित्र गणेश प्रसाद का शुक्रवार की सुबह ब्रेन हैमरेज होने से मौत हो गई। छह जनवरी को शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर अच्छा नहीं होने से वह परेशान थे। तीन दिन पहले सदमे से उनको ब्रेन हैमरेज हो गया। शहर के एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। गंभीर हालत देख सुबह डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया। जहां ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया।

बनगांवा गांव निवासी 45 वर्षीय गणेश प्रसाद वर्ष 2001 में शिक्षामित्र के पद पर नियुक्त हुए थे। वर्ष 2014 में सहायक अध्यापक पद पर समायोजन होने के बाद गगहा ब्लाक के विद्यालय पर उनकी तैनाती कर दी गई। कोर्ट से समायोजन निरस्त होने के बाद वह पुन: बनगांवा प्राथमिक विद्यालय पर तैनाती कर दी गई। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) उत्तीर्ण करने के बाद वह 6 जनवरी को सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा में शामिल हुए।

परीक्षा के बाद शासन द्वारा कट ऑफ लागू करने के बाद वह सदमे में आ गए। तीन दिन पहले ब्रेन हैमरेज होने पर उनको इलाज के लिए शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सुबह हालत गंभीर होने पर डॉक्टर ने लखनऊ रेफर कर दिया। लखनऊ ले जाते समय रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। मौत की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया। देर शाम उनके शव का कालेसर स्थित मोक्षधाम पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनके परिवार में पत्नी, दो बेटा और एक बेटी हैं।

निधन पर जताया शोक

गणेश प्रसाद के निधन पर शिक्षामित्र संघ के योगेन्द्र सिंह, रणविजय यादव, दिनेश सिंह, अजय शर्मा, मिथिलेश उपाध्याय, रमेश यादव, दीपचंद, जयप्रकाश उपाध्याय, हरेन्द्र यादव, मेवालाल आदि ने शोक व्यक्त किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shikshamitra died in road accident in Gorakhpur