DA Image
17 फरवरी, 2020|6:25|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Gorakhpur में सैनिक स्‍कूल के लिए तय हो गई ये जगह, जानिए किस क्‍लास में मिलेेेेगा दाखिला

गोरखपुर में प्रस्तावित सैनिक स्कूल के लिए फर्टिलाइजर में 49 एकड़ जमीन चिन्हित कर ली गई है। इसके लिए सीएम हरी झंडी दे चुके हैं। सीएम की हरी झंडी के बाद शासन ने गोरखपुर जिला प्रशासन ने डीपीआर भेजने को कहा है। इस स्कूल के यहां खुल जाने से गोरखपुर और आसपास के बच्चों को इस स्कूल में दाखिले के लिए बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी। 

इसके खुलने के साथ ही यहां पीएसी महिला बटालियन के साथ ही पुलिस ट्रेनिंग सेंटर भी स्थापित होने जा रहा है। इन सब से फर्टिलाइजर जल्द ही सैन्य क्षेत्र के रूप में विकसित होगा। यहां महिला पीएसी बटालियन, पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के साथ ही अब सैनिक स्कूल के लिए भी जमीन चिन्हित की गई है। जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन ने बताया कि स्कूल के लिए फर्टिलाइजर में 49 एकड़ जमीन आरक्षित कर दी गई है। मंजूरी मिलते ही इस पर काम शुरू करा दिया जाएगा। 

बताया कि सैनिक स्कूल के लिए खाद कारखाने के पास 50 एकड़ जमीन चिन्हित कर ली गई है। सैनिक स्कूल के निर्माण में लागत तकरीबन 100 करोड़ आएगा। इसके साथ ही शासन के निर्देश पर 30-30 एकड़ जमीन पीएसी की महिला बटालियन और पांच एकड़ जमीन एनडीआरएफ को मुहैया कराने के लिए चिह्नित की गई है। 

कक्षा छह और नौ में मिलता है दाखिला 
रक्षा मंत्रालय के अधीन सैनिक स्कूलों का उद्देश्य बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी के लिए तैयार करना है। इन स्कूलों में दाखिले के लिए सैनिक स्कूल सोसाइटी द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर प्रवेश परीक्षा होती है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:sanik school will be constructed in fertilizer gorakhpur