DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीवियों से संवाद कर कम करेंगे रेल ड्राइवरों का टेंशन


बीवियों से संवाद कर कम करेंगे रेल ड्राइवरों का टेंशन

बीवियों से संवाद कर रेल चालकों के टेंशन को कम करने और एकाग्रता बढ़ाने के लिए रेलवे अनूठा पहल करने जा रहा है। रेल अफसरों, चालकों और उनकी पत्नियों के बीच 14 दिसम्बर को रेल प्रशासन डीजल लॉबी के हॉल में संवाद स्थापित होगा। इस संवाद में जहां अफसर चालकों की पत्नियों से समस्याओं की जानकारी के साथ ही सुधार के लिए सुझाव मांगेंगे वही अफसर भी पत्नियों को तनाव कम करने के लिए कुछ सुझाव और टिप्स देंगे।

रेल प्रशासन का मानना है कि रेल चालकों को अधिक से अधिक रेस्ट दिया जाना चाहिए। ऐसे में घर की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। रेल प्रशासन का कहना है कि पत्नियां घर पर ज्यादा से ज्यादा आराम देने की कोशिश करें।

संवाद की जरूरत क्यों

दरअसल रेलवे में वर्तमान समय में चालकों की ड्यूटी कठिन मानी गई है। गर्मी, अत्यधिक ठण्ड के बावजूद भी चालक ट्रेन को मंजिल तक पहुंचाते हैं। ऐसे में उनकी ड्यूटी में कोई व्यवधान न पड़े इसी को लेकर उनकी पत्नियों से बुलाकर समस्याओं और सुझाओं पर चर्चा की जा रही है।

आने वाली कठिनाइयों को दूर करने का मिलेगा आश्वासन

संवाद के दौरान जो भी समस्याएं निकल कर आएंगी उन्हें दूर करने के लिए सम्बंधित विभाग को कार्रवाई के लिए आदेश जारी किए जाएंगे।

सभी सम्बंधित अधिकारी रहेंगे मौजूद

चालकों से सबंधित सभी तरह के अफसर संवाद कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे। इसमें मैकेनिकल, बिजली और परिचालन के बड़े अफसर उपस्थित रहेंगे।

रनिंग परिवार संरक्षा संवाद है नाम से हो रहा है आयोजन

आगामी दिनों में जहां भी कार्यक्रम होने जा रहा है वहां रनिंग परिवार संरक्षा संवाद से नाम से आयोजन हो रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य है कि रेल चालकों को संचलन के दौरान किसी प्रकार का कोई तनाव न हो और घर पर अधिक से अधिक आराम मिले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Railway will talk to driver s wives to reduce tension