DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुछ नया सीखने के लिए सदैव तत्पर रहे प्रधानाचार्य: प्रोफेसर रामअचल सिंह

अवध विश्वविद्यालय फैजाबाद के पूर्व कुलपति प्रोफेसर रामअचल सिंह ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में कुछ नया सीखने के लिए सदैव तत्पर रहना चाहिए। यह भी महत्वपूर्ण है कि जो कुछ भी सीखे, उससे अपने कौशल को निरंतर बढ़ाएं। 
प्रोफेसर रामअचल सिंह मंगलवार को सरस्वती शिशु मंदिर पक्की बाग में प्रधानाचार्य पुनश्चर्या कार्यक्रम के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान द्वारा गोरक्ष प्रांत के प्रधानाचार्यो के नौ दिवसीय पुनश्चर्या कार्यक्रम का मंगलवार को समापन हुआ। प्रोफेसर राम अचल ने प्रधानाचार्यो का आह्वान किया कि वह पुनश्चर्या के दौरान जो कुछ सीखे उनका अनुपालन विद्यालय की वार्षिक कार्ययोजना बना अनुपालन कराएं। 
प्रदेश निरीक्षक आत्मा नंद सिंह ने कहा कि कार्यशाला दैनिक शिक्षा कौशल और शिक्षक कौशल के नए तरीकों के साथ साथ शिक्षण का व्यापक और रचनात्मक स्वरूप प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि विद्या ज्ञान का मंदिर है। नवीन ज्ञान से छात्रों को अवगत कराने के लिए पुनश्चर्या वर्ग का प्रमुख स्थान है। 
मंगलवार को कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती वंदना से हुआ। इस अवसर पर पूरे वर्ग में रहने वाले सभी प्रधानाचार्य, सभी संभाग निरीक्षक, प्रदेश निरीक्षक, विद्यालय समिति के सभी सदस्य एवं प्रबंधक उपस्थित रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Principal always looking forward to learning something new: Prof Ramachal Singh