DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गोरखपुर › गोरखपुर से हिंडन, गोवा और पुणे के लिए भी उड़ान की तैयारी
गोरखपुर

गोरखपुर से हिंडन, गोवा और पुणे के लिए भी उड़ान की तैयारी

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Wed, 04 Aug 2021 04:11 AM
गोरखपुर से हिंडन, गोवा और पुणे के लिए भी उड़ान की तैयारी

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता

उड़ान के क्षेत्र में कीर्तिमान बनाने वाला गोरखपुर एयरपोर्ट अब अपना दायरा और बढ़ाने जा रहा है। दिल्ली, कोलकाता, मुम्बई, बेंगलुरु, अहमदाबाद, प्रयागराज और लखनऊ के लिए उड़ान सेवाओं के साथ ही अब गोरखपुर और आसपास के लोग पुणे, गोवा और हिंडन, पटना जैसे बड़े शहरों तक महज कुछ ही घंटों में पहुंच जाएंगे। इन सेवाओं के लिए विमान कंपनियों ने एयरपोर्ट से स्लॉट उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है। उधर, एयरपोर्ट अथॉरिटी भी इस सेवा को शुरू कराने के लिए काफी उत्साहित है।

हिंडन एयरपोर्ट के लिए विमान सेवा शुरू हो जाने से नोएडा और गाजियाबाद जाने वाले यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। अभी दिल्ली एयरपोर्ट से नोएडा और गाजियाबाद आने में दो घंटे से ऊपर समय लग जाता है। ऐसे में हिंडन एयरपोर्ट के लिए सेवा शुरू हो जाने से यात्रियों के इस समय की बचत हो जाएगी। एयरपोर्ट निदेशक प्रभाकर बाजपेयी ने बताया कि इन शहरों के लिए उड़ान का प्रस्ताव है। अगर कोई तकनीकी बाधा नहीं आई तो सेवाएं जल्द शुरू हो जाएंगी।

पर्यटकों के लिए काफी फायदेमंद होगी गोवा की उड़ान

पर्यटकों के लिए टॉप-5 शहरों मे शामिल गोवा के लिए उड़ान सेवा शुरू हो जाने से गोरखपुर से जाने वाले पर्यटक महज दो घंटे में गोवा पहुंच जाएंगे। पर्यटकों का समय तो बचेगा ही, यात्रा भी सुगम होगी।

छात्रों के लिए किसी तोहफे से कम नहीं होगी पुणे की उड़ान

गोरखपुर और आसपास के जिलों में सैकड़ों ऐसे छात्र हैं, जो पुणे में रहकर मेडिकल, इंजीनियरिंग, प्रबंधन और विधि की पढ़ाई कर रहे हैं। अभी गोरखपुर से पुणे के लिए एकमात्र साधन ट्रेन है। इससे पुणे पहुंचने में कम से कम 40 घंटे का समय लग जाता है। विमान सेवा शुरू हो जाने से महज दो घंटे में पुणे पहुंच जाएंगे।

6300 से सात लाख तक का सफर

गोरखपुर एयरपोर्ट से 2013 में यात्रियों की संख्या साल भर में महज 6300 थी। उस समय एयर इंडिया की एकमात्र फ्लाइट नई दिल्ली के लिए थी। इसके बाद तीन साल तक रफ्तार धीमी रही। हालांकि, इस दौरान भी हर साल यात्रियों की संख्या दोगुनी होती रही। वर्ष 2017 में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद फ्लाइट संख्या बढ़ाने के साथ ही यात्री सुविधाओं पर खासा जोर दिया गया। वर्ष 2020 आते-आते सलाना यात्रियों का आवागमन सात लाख पहुंच गया। मौजूदा समय में, दिल्ली के साथ ही मुंबई, कोलकाता, अहमदाबाद, हैदराबाद आदि शहरों के लिए कुल 13 उड़ानें हैं।

सात साल में 125 गुना बढ़े यात्री

गोरखपुर एयरपोर्ट पर सात साल में 125 गुना यात्री बढ़ गए हैं। इस साल कुल यात्रियों की संख्या साढ़े सात लाख के आंकड़े को पार कर गई। इससे एयरपोर्ट का दर्जा भी अपग्रेड हो गया। अपना एयरपोर्ट चौथे से प्रमोट होकर तीसरे ग्रेड में पहुंच गया है। अब एयरपोर्ट पर सुविधाएं और बढ़ जाएंगी।

संबंधित खबरें