DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शांतिपूर्ण मतगणना भी पर सप्ताह भर हाई अलर्ट पर रहेगी पुलिस


शांतिपूर्ण मतगणना भी पर सप्ताह भर हाई अलर्ट पर रहेगी पुलिस

लोकसभा चुनाव के साथ मतगणना भी पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहने के बाद भी पुलिस को एक सप्ताह के अलर्ट पर रखा गया है। वहीं इसके लिए अलग से एक कम्पनी पैरा मिलिट्री फोर्स भी जिले को दी गई है। यह अलर्ट नतीजे के बाद किसी भी तरह के तनाव से निपटने को लेकर है। पुलिस अधिकारी शांतिपूर्ण चुनाव और मतगणना से काफी खुश हैं उन्हें इसको लेकर लोगों की बधाई भी मिल रही है।

इससे पहले का कोई चुनाव और मतगणना इस तरह के अभूतपूर्व शांति से नहीं बीता था। हिंसा, मारपीट और कहासुनी की तमाम घटनाएं सामने आई थी लेकिन इस बार ऐसा कुछ भी नहीं था। इसके पीछे पुलिस की पुख्ता तैयारी को भी एक बड़ी वजह मानी जा रही है।

चुनाव की घोषणा के बाद से ही पुलिस ने निरोधात्मक कार्रवाई शुरू कर दी। पचास से अधिक हिस्ट्रीशीटरों और गुंडों पर कार्रवाई करने के साथ ही अप्रैल और मई में पुलिस ने करीब हजारों लोगों को शांतिभंग में चालान किया था तो वहीं 300 वारंटियों को जेल पहुंचाया था। वहीं कच्ची शराब के लगभग 250 कारोबारियों को गिरफ्तार कर लगभग 10 हजार लीटर शराब नष्ट किया था। पुलिस ने अराजक तत्वों के घर जाकर उन्हें हिदायत दी थी। न मानने वालों को पुलिस ने मतदान के पूर्व ही थाने पर बैठा दिया था। मतदान समाप्त होने के बाद छोड़ा गया था।

पहले के चुनाव में धांधली के आरोप में उठे थे कई

खोराबार पुलिस ने करीब दर्जनों ऐसे लोगों को उठाया था जिन पर पहले के चुनावों में धांधली करने का आरोप था। इसमें कई वर्तमान प्रधान, प्रधान प्रतिनिधि, बीडीसी सदस्य आदि शामिल रहे। वहीं पुलिस ने एक ब्लाक प्रमुख को भी थाने पर बैठा लिया। बाद में अगले दिन उन्हें छोड़ दिया।

एक सप्ताह के लिए आई एक कम्पनी पैरामिलिट्री

चुनाव कराने के अलगे दिन चुनाव की ड्यूटी में लगी फोर्स लौट गई। उसके बाद मतगणना के लिए फोर्स लगाई गई। मतगणना को लेकर जिस तरह से माहौल बन रहा था। एग्जिट पोल के बाद मिले धमकियां मिलने और उससे निपटने के लिए प्रत्येक जिले में पुलिस को एक सप्ताह तक हाई अलर्ट पर रखते हुए एक कम्पनी पैरामिलिट्री भी भेज गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police is on high alert for one week in Gorakhpur after Counting