DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश गोरखपुरनाट्य शिल्पी थे पीयूषकांत: कमाल आचार्य

नाट्य शिल्पी थे पीयूषकांत: कमाल आचार्य

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 10:00 PM
नाट्य शिल्पी थे पीयूषकांत: कमाल आचार्य

गोरखपुर। निज संवाददाता

वरिष्ठ रंगकर्मी पीयूषकांत ‘अलग के निधन पर संस्कार भारती, गोरखपुर थियेटर एसोसिएशन एवं अभियान थियेटर ग्रुप के तत्वाधान में रविवार को श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।

संस्कार भारती की महानगर अध्यक्ष रीना जायसवाल ने कहा आज मैं जो कुछ भी हूं पीयूष कांत की वजह से हूं जो कुछ भी अब तक उनसे हमने सीखा है भविष्य में उसे साकार रूप दूंगी । अभियान थिएटर ग्रुप से श्रीनारायण पांडेय ने कहा कि उनकी स्मृति में संस्थान द्वारा नवोदित रंगकर्मियों को स्कॉलरशिप प्रदान किया जाएगा। कमाल आचार्य ने कहा कि वो अभिनेता, रूप सज्जा, निर्देशक नहीं थे बल्कि वो एक नाट्य शिल्पी थे। भारत भूषण ने कहा कि रंगकर्म की दुनिया में पीयूष एक स्कूल थे। डॉ. मुमताज खान ने कहा कि पीयूष की पहचान कोई अकेले नहीं बता सकता। कौशल ने कहा कि वे वन मैन इंडस्ट्री थे।

रविंद्र रंगधर ने कहा कि रविंद्र रंगधर ने कहा कि पीयूष की पुण्यतिथि पर उनके निर्देशित 2-3 नाटकों का एक समारोह होगा, जिसका निर्देशन पीयूषकांत ‘अलग के नाम ही रहेगा। अमोल राय दादा ने कहा कि जिंदगी महान है जिंदगी रहेगी तभी संस्कृति को आगे बढ़ा पाएंगे। बेचन सिंह पटेल, मोहन आनंद आजाद, विवेक श्रीवास्तव, जितेंद्र पांडेय, आसिफ जहीर, पंकज श्रीवास्तव, अजीत प्रताप सिंह, राधेश्याम, गुलाम हसन खां, जागृति, तेज नारायण, राजनाथ वर्मा, हरीश शर्मा, आशीष श्रीवास्तव, ओम जायसवाल, विवेक अस्थाना, अनूप स्वामी आदि मौजूद रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें