PG students will get scholarship in MMMUT from next session - अगले सत्र से एमएमएमयूटी में पीजी छात्रों को मिलेगी स्कालरशिप DA Image
21 नवंबर, 2019|6:40|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगले सत्र से एमएमएमयूटी में पीजी छात्रों को मिलेगी स्कालरशिप

मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय अगले शैक्षणिक सत्र से एमटेक छात्रों के लिये छात्रवृत्ति योजना शुरू करने जा रहा है। छात्रवृत्ति योजना के प्रस्ताव को पिछले सप्ताह एमएमएमयूटी की विद्या परिषद ने मंज़ूरी दे दी। आगामी 18 नवम्बर को होने वाली विवि प्रबंध बोर्ड एवं वित्त समिति की बैठक में इस प्रस्ताव को मंज़ूरी मिलने की पूरी उम्मीद है। मंज़ूरी मिल जाने पर शैक्षणिक सत्र 2020-21 से इस योजना को लागू कर दिया जाएगा।

इस योजना के अनुसार एमएमएमयूटी में एमटेक की प्रत्येक ब्रांच में प्रवेश पाने वाले तीन-तीन छात्रों का मेरिट के आधार पर चयन कर दो हज़ार रुपये प्रतिमाह की छात्रवृत्ति दी जाएगी। बशर्ते उन्हें गेट अथवा किसी अन्य स्त्रोत से छात्रवृत्ति न मिल रही हो। कुलपति प्रो. एसएन सिंह के अनुसार इससे प्रतिभावान छात्रों को विवि के एमटेक पाठ्यक्रम की तरफ आकर्षित करने में मदद मिलेगी और इस पाठ्यक्रम की गुणवत्ता भी बढ़ेगी। इस योजना पर होने वाला वार्षिक व्यय विश्वविद्यालय अपने स्रोतों से वहन करेगा। एमएमएमयूटी में इस समय 12 एमटेक पाठ्यक्रम चल रहे हैं, जिनमें कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, हिल एरिया डेवलपमेंट इंजीनियरिंग, सीस्मिक डिजाईन एंड अर्थक्वेक इंजीनियरिंग, स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग, एनवायर्नमेंटल इंजीनियरिंग, पॉवर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड ड्राइव्स, कंप्यूटर इंटीग्रेटेड मैन्युफैक्चरिंग, डिजिटल सिस्टम, कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, कण्ट्रोल एंड इंस्ट्रूमेंटेशन, और एनर्जी टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट शामिल हैं।

अब एमटेक में गेट स्कोर पर सीधे मिलेगा प्रवेश, हर ब्रांच में बीस-बीस सीटें

इस बार एमएमएमयूटी प्रशासन ने एमटेक पाठ्यक्रम की प्रवेश क्षमता में बदलाव कर दिया है। एमटेक के प्रत्येक ब्रांच में अब 20-20 सीटें होंगी। इसके अलावा दाखिले की प्रक्रिया में भी महत्वपूर्ण बदलाव किये गए हैं। अब तक एमएमएमयूटी के एमटेक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए गेट (ग्रेजुएट एप्टीचयूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग) क्वालीफाई होना अनिवार्य नहीं था पर गेट स्कोर धारकों को प्रवेश परीक्षा में वेटेज दिया जाता था। नयी व्यवस्था के अंतर्गत, गेट क्वालिफाइड अभ्यर्थियों को एमटेक प्रवेश में प्राथमिकता दी जाएगी। उन्हें स्कोर के आधार पर सीधे प्रवेश दिया जाएगा। उनके प्रवेश के बाद बची हुई सीटों पर मालवीय एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से प्रवेश लिया जाएगा।

अगले सत्र में एमएमएमयूटी एमएससी केमिस्ट्री की भी होगी पढ़ाई

इसके साथ ही एमएमएमयूटी शैक्षणिक सत्र 2020-21 से एक नया पाठ्यक्रम एमएससी केमिस्ट्री भी शुरू करने जा रहा है| एमएससी केमिस्ट्री पाठ्यक्रम में 30 सीटें होंगी। मालवीय एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से इसमें प्रवेश लिया जाएगा। विवि का रसायन एवं पर्यावरण विज्ञान विभाग इस कोर्स का संचालन करेगा। एमएससी केमिस्ट्री पाठ्यक्रम के क्रेडिट स्ट्रक्चर और पाठ्यचर्या को विवि की विद्या परिषद से मंज़ूरी मिल गयी है। आगामी बोर्ड बैठक इस प्रस्ताव को भी मंज़ूरी मिल जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: PG students will get scholarship in MMMUT from next session