People from Sikkim to Kashmir will be scattered in Gorakhpur - गोरखपुर में बिखरेगी सिक्किम से कश्मीर तक की लोक छटा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखपुर में बिखरेगी सिक्किम से कश्मीर तक की लोक छटा

कौमुदी महोत्सव में बही संगीत की सरिता, देर रात तक डटे रहे दर्शक

देश के 18 राज्यों की 21 लोक कलाओं का प्रदर्शन आगामी 22, 23 एवं 24 फरवरी को शहर के कचहरी ग्राउण्ड में लोक संगम-2019 में किया जायेगा। संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली की देशज महोत्सव श्रंखला के अन्तर्गत लोक संगम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें स्थानीय लोक कलाओं को मंच देने के साथ ही पुन: सुदृढ़ करने का प्रयास किया जा रहा है। 
तीन दिवसीय लोक संगम-2019 का आयोजन गोरखपुर में होगा
संगीत नाटक अकादमी की देशज महोत्सव श्रंखला के अन्तर्गत होगा आयोजन
18 राज्यों की 21 लोक कलाओं से परचित होंगे शहरवासी
कचहरी क्लब में 22, 23 एवं 24 फरवरी को होगा लोक संगम-2019 

लोक संगम के स्थानीय समन्वयक हरि प्रसाद सिंह ने कि 18 राज्यों में से 17 राज्यों के कलाकार अपने राज्य की एक-एक लोककला का प्रदर्शन करेंगे। वहीं उत्तर प्रदेश के कलाकार अपने प्रदेश की चार लोककलाओं का प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने बताया कि लोक संगम के माध्यम से कलाकार न केवल  मनोरंजन करेंगे बल्कि वर्तमान समाज विशेषकर भावी पीढ़ी को भारत की विविध पारम्परिक लोककला शैलियों से परिचित करायेंगे। देश के 18 राज्यों की लोककलाओं का प्रदर्शन एक मंच पर तीन दिन में पहली गोरखपुर में किया जा रहा है। 
इन राज्यों के कलाकार बिखेंगे लोक रंग
उत्तर प्रदेश्, सिक्कम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड, तमिलनाडू, उड़ीसा, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, गुजराज, छत्तीसगढ़, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, मध्य प्रदेश, बिहार, झारखण्ड, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, त्रिपुरा
देशज महोत्सव पर एक नजर
देशज महोत्सव श्रृंखला के अन्तर्गत गोरखपुर में होने वाले तीन दिवसीय लोक संगम-2019 का आयोजन किया जा रहा है। देश महोत्सव श्रंखला का आगाजा संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली की ओर से 2013 में किया गया था। जिसके अन्तर्गत देश के लोक एवं जनजातीय संगीत, नृत्य और नाट्य के प्रचलित रूपों के कलाकारों को प्रोत्साहित करने और लोक कलाओं के विकास के लिए देश के विभिन्न क्षेत्रों में हर साल सात देशज महोत्सव का आयोजन किया जाता रहा है। अभी तक दिल्ली, पटना, हैदराबाद, जमशेदपुर, दरभंगा, आजमगढ़, इम्फाल, काकचिंग, असम, हरियाणा, कानुपर, हल्दवानी, लेह, कुल्लू, में देशज महोत्सव का आयोजन किया जा चुका है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People from Sikkim to Kashmir will be scattered in Gorakhpur