ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरपूर्वोत्तर रेलवे के 35 स्टेशनों पर शुरू होगा पार्सल मैनेजमेंट

पूर्वोत्तर रेलवे के 35 स्टेशनों पर शुरू होगा पार्सल मैनेजमेंट

गोरखपुर, वरिष्ठ संवाददाता पूर्वोत्तर रेलवे जल्द ही तीनों मण्डलों के 35 स्टेशनों पर पार्सल...

पूर्वोत्तर रेलवे के 35 स्टेशनों पर शुरू होगा पार्सल मैनेजमेंट
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरWed, 28 Feb 2024 08:45 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर, वरिष्ठ संवाददाता
पूर्वोत्तर रेलवे जल्द ही तीनों मण्डलों के 35 स्टेशनों पर पार्सल मैनेजमेंट सुविधा शुरू करने जा रहा है। इस सिस्टम से पार्सल कब निकला और कहां पहुंचा, यह घर बैठे जान सकेंगे। बार कोड के जरिए मोबाइल पर अपडेट मिलता रहेगा। इससे लोगों को भटकना नहीं होना पड़ेगा। न तो पार्सल गायब होने का डर और न ही सामान में गड़बड़ी या डिलीवरी में लेटलतीफी का झंझट। पार्सल अपने निर्धारित गन्तव्य पर आसानी से पहुंच जाएगा। एनईआर के सभी प्रमुख स्टेशनों पर यह सिस्टम लगाया जा रहा है।

अक्सर, समय से पार्सल गंतव्य पर नहीं पहुंचता। स्टेशन या ट्रेन में ही पड़ा रह जाता है। कई बार तो बुक सामान को गंतव्य तक पहुंचने में महीनों लग जाते हैं या फिर गायब हो हाता है। इससे उपभोक्ताओं को विभागों के चक्कर लगाना पड़ता है। कोर्ट की भी शरण लेनी पड़ जाती है। दौड़भाग के खर्चे अलग से। पार्सल मैनेजमेंट सिस्टम से इन सभी समस्याओं से निजात मिलेगी।

----------

उपभोक्ताओं को मिलेगा बार कोड :

पार्सल मैनेजमेंट सिस्टम से बुकिंग पूरी तरह से ऑनलाइन हो जाएगी। सामान बुक होने के साथ ही उपभोक्ता को एक बार कोड मिल जाएगा। उसके माध्यम से उपभोक्ता के मोबाइल पर पार्सल की अपडेट जानकारी मिलती रहेगी। पार्सल कब निकला और कहां पहुंचा, एसएमएस के जरिये इसकी सूचना मिलती रहेगी।

-------------

इन स्टेशनों पर शुरू होगी सेवा :

लखनऊ मण्डल

गोरखपुर, बस्ती, खलीलाबाद, गोण्डा, बुढ़वल, ऐशबाग, सीतापुर, लखीमपुर, बहराइच, बलरामपुर

----------

वाराणसी मण्डल

रामबाग, आजमगढ़, बलिया, देवरिया, गाजीपुर सिटी, कप्तानगंज, मऊ, पडरौना, सिसवा बाजार, सीवान, वाराणसी सिटी

-------------

इज्जतनगर मण्डल

काठगोदाम, लालकुआं, रुद्रपुर सिटी, बरेली सिटी, कासगंज, फर्रुखाबाद, कन्नौज, हाथरस

------------

सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने बताया कि बेहतर सुविधा देने के उद्देश्य से पार्सल मैनेजमेंट सिस्टम लागू करने की तैयारी है। यह व्यवस्था प्रभावी हो जाने के बाद रेलवे से पार्सल मंगाना और भेजना काफी आसान हो जाएगा। पार्सल बुक कराने वालों के मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से पार्सल की लोकेशन मिलती रहेगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें