अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओमप्रकाश राजभर ने कसा तंज-जब तक सरकार नहीं बनी थी तभी तक राममंदिर की चिंता थी

संतकबीरनगर के जनपद के चंगेरा-मंगेरा के असनहरा घाट पर पिछले 38 दिनों से चल रहे सुभासपा के जल सत्याग्रह आंदोलन में शुक्रवार को कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर पहुंच गए। इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने भाजपा सरकार पर तंज कसा कहा कि जब तक कुर्सी नहीं मिली थी तब तक ही राम मंदिर की चिंता अब नहीं। साथ ही एसटीएसटी एक्ट पर उन्होंने फिर दोहराया कि हमारी पार्टी सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के साथ है।  

कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने सीएम के उस बयान कि मंदिर कब बनेगा यह राम जी तय करेंगे का जिक्र करते हुए कहा कि जब तक भाजपा सरकार नहीं बनी थी तब तक ही राम मंदिर की चिंता थी। अब कुर्सी मिल गई तो भगवान को बता रहे हैं कि वे खुद ही बनवा देंगे।

आंदोलनकारियों का बढ़ाया उत्साह 
श्री राजभर ने कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए पुल निर्माण के लिए धन आवंटन कराने का आश्वसन दिया। कहा कि  परिवार में यदि किसी को भोजन नहीं मिलेगा तो वह चिल्लाएगा ही। आज आवश्यकता है इस पुल को बनाने की, इससे कई गांव प्रभावित हैं। यहां के लोगों ने पत्र दिया था, इस प्रकरण में पता किया गया तो पता चला कि पिछली सरकार में स्टीमेट बनाकर भेजा गया था, लेकिन स्वीकृत नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि इस अनुपूरक बजट में यदि संभव होगा तो इसी में अन्यथा आम बजट में इस पुल के लिए धन आवंटित कराएंगे। 

उन्होंने एससीएसटी एक्ट पर कहा कि हमारा रुख एकदम साफ है, मैं और मेरी पार्टी सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के समर्थन में हैं। कोर्ट ने सही कहा कि इस एक्ट का दुरुपयोग होता है, झगड़ा एक आदमी करता है और जेल पूरा परिवार जाता है। उन्होंने कहा कि हम 27 अक्टूबर को लखनऊ में सरकार से अपनी बात मनवाएंगे।  जब तक राजभर जाति के लोगों को आवास, पेंशन, सड़क, खड़ंजा आदि की सुविधा नहीं दिला देंगे तब तक चैन से नहीं बैठेंगे। इस दौरान जल समाधि संघर्ष मोर्चा के संयोजक शैलेश कुमार राजभर, सरोज राजभर, ग्राम प्रधान राजेश सिंह आदि मौजूद रहे। 

सरकार की तारीफ भी की
श्री राजभर ने सरकार की तारीफ भी की। कहा कि सरकार अच्छा काम कर रही है। पिछली सरकार से हमारी सरकार बेहतर करने की कोशिश कर रही है। प्राथमिक विद्यालय में इस समय बच्चे जो पढ़ने जा रहे हैं उन्हें बेहतर व्यवस्था दी जा रही है। बच्चों को होमगार्ड की वर्दी से निजात दिलाते हुए उन्हें जूता, बैग भी दिया। सरकार लगातार बदलाव की कोशिश कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Om prakash rajbhar criticised BJP on Ram Temple in Santkabirnagar