DA Image
30 नवंबर, 2020|12:35|IST

अगली स्टोरी

गोरखपुर से सीखेगा अब पूरा देश, तैयार होंगी 25000 आपदा सखी

गोरखपुर से सीखेगा अब पूरा देश, तैयार होंगी 25000 आपदा सखी

गोरखपुर जिला प्रबंध प्राधिकरण की पहल पर अब पूरा देश अमल करने जा रहा है। यहां आपदा मित्रों में तैनात युवतियों का हुनर देखकर राष्ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण ने पूरे देश में 25000 आपदा सखी तैनात करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही 75000 आपदा मित्र भी तैनात किए जाएंगे।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण और यूनिसेफ की टीम ने 17 और 18 अक्तूबर को गोरखपुर का दौरा किया था। इस दौरान राप्ती नदी के राजघाट पर आपदा से बचाव का पूर्वाभ्यास कराया गया। पूर्वाभ्यास के दौरान एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा पुलिस और पीएसी के जवानों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान गोरखपुर के आपदा मित्रों ने भी बाढ़ से बचाव और राहत कार्य पहुंचाने का शानदार प्रदर्शन किया। इनमें युवतियों ने काफी चुस्ती-फुर्ती दिखाई।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण ने गोरखपुर के आपदा मित्रों का हुनर देखकर पूरे देश में 75000 आपदा मित्र और 25000 आपदा सखी तैयार करने का फैसला लिया। गोरखपुर में 18 आपदा सखी तैयार हो गई हैं जिन्होंने जिला आपदा प्रबंध प्राधिकरण के निर्देशन में गतिविधियां भी शुरू कर दी है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि जिला प्रशासन ने आपदा मित्रों और आपदा सखी के लिए मानदेय तय किए जाने का प्रस्ताव भी शासन को भेजा है।

अत्याधुनिक संसाधनों से किया जाएगा सुसज्जित : प्राधिकरण द्वारा तैयार की गईं प्रशिक्षित आपदा सखी अत्याधुनिक संसाधनों से भी सुसज्जित होंगी। आपदा सखियों को महिलाओं से सम्बंधित बीमारियों के प्राथमिक स्तर पर बरती जाने वाली सावधानियों के बावत प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके बाद अपने-अपने क्षेत्रों में महिलाओं का समूह तैयार करेंगी और उन्हें प्रशिक्षित करेंगी।

गोरखपुर और बलिया में हैं 200-200 आपदा मित्र

राज्य आपदा प्रबंध प्राधिकरण द्वारा प्रदेश के दो जिलों गोरखपुर और बलिया में आपदा मित्रों को चयनित करने का फैसला लिया गया था। वर्ष 2017 में दोनों जिलों में 200-200 आपदा मित्रों को तैनात किया गया। इन आपदा मित्रों को वाराणसी में एनडीआरएफ द्वारा प्रशिक्षण दिया गया था। इन्होंने बाढ़ विभीषिका के दौरान सराहनीय कार्य किया जिसे देश स्तर पर सम्मान मिला।

आपदा सखी बना रही हैं ह्वाट्सएप ग्रुप

गोरखपुर में तैयार आपदा सखियों द्वारा महिलाओं का ह्वाट्स एप ग्रुप तैयार किया जा रहा है। इस ग्रुप से एनडीआरएएफ तथा जिला आपदा प्रबंध प्राधिकरण के अधिकारी भी जुड़े रहेंगे जो समय-समय पर आपदा सखियों को प्रेरित करते रहेंगे। निधि पांडेय, जागृति मिश्रा, साधना सिंह, प्रियंका सोनकर, नेहा दूबे, गायत्री सिंह, सुमन सिंह, प्रिया उपाध्याय, शिवानी राय, डाली, किरण यादव, मनीषा त्रिपाठी, सुनंदा, सोनाली, गायत्री, पूजा, चंद्रकला और चंद्रकांता वो 18 आपदा सखी हैं जिन्हें गोरखपुर में तैयार किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Now the whole country will learn from Gorakhpur 25000 disaster will be ready