DA Image
21 जनवरी, 2020|5:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

13 लाख वसूल कर आवंटन करना भूल गया नगर निगम

13 लाख वसूल कर आवंटन करना भूल गया नगर निगम

पटरी व्यवसायियों को जगह मुहैया कराने के लिए नगर निगम में 13 हजार से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। 13 लाख रुपये से अधिक वसूलने के बाद निगम आवंटन को लेकर निष्क्रिय नजर आ रहा है।

निगम ने दो माह पहले ही करीब 13 हजार पटरी व्यवसायियों का रजिस्ट्रेशन एवं सत्यापन करने के बाद वादा किया था। नगर निगम को दो-दो वर्ग मीटर जगह उपलब्ध कराना था। दो महीने गुजरने के बाद भी निगम उनके लिए न तो जगह ढूंढ पाया और न ही बताया कि कितने लोगों को इसका लाभ मिलेगा। शहर में अतिक्रमण और जाम की समस्या दूर करने के लिए नगर निगम ने पटरी व्यवसायियों को व्यवस्थित करने की योजना बनाई है।

रजिस्ट्रेशन कराने वालों को निगम जहां पटरी व्यवसायी दुकान लगाते हैं उसी के आसपास उन्हें दो वर्ग मीटर जगह देना था ताकि उनका रोजगार प्रभावित न हो। पटरी के किनारे जगह चिन्हित करने के लिए कर अधीक्षकों एवं अवर अभियंताओं को जिम्मेदारी दी गई थी, लेकिन इसी बीच बहुत से कर्मचारियों का तबादला या पटल परिर्वतन हो गया। इसके बाद से जगह ढूंढने का कार्य पूरी तरह रुक गया। हालांकि निगम प्रशासन अब भी यह दावा कर रहा है फिलहाल 16 स्थान चिन्हित किये हैं जहां पटरी व्यवसायियों को व्यवस्थित किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nagar Nigam forget to allot after taking 13 lakh also