ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरइस्लामिया इंटर कॉलेज की जमीन पर नगर निगम ने जताया दावा

इस्लामिया इंटर कॉलेज की जमीन पर नगर निगम ने जताया दावा

गोरखपुर, मुख्य संवाददाता। नगर निगम का दावा है कि बक्शीपुर में मिया साहब...

इस्लामिया इंटर कॉलेज की जमीन पर नगर निगम ने जताया दावा
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरThu, 22 Feb 2024 11:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर, मुख्य संवाददाता। नगर निगम का दावा है कि बक्शीपुर में मिया साहब इस्लामिया इंटर कॉलेज जिस जमीन पर संचालित हो रहा है, वह उसकी है। इसके अलावा जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी की ओर से जिन 20 दुकानों से किराया वसूल किया जा रहा है, वे भी कृषि योग्य बंजर खाते की भूमि पर बनी हैं। नगर निगम की ओर से बक्शीपुर में 20 दुकानों के ध्वस्तीकरण की नोटिस के मामले में जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी की ओर से आपत्ति किए जाने के बाद अपर नगर आयुक्त निरंकार सिंह की ओर की गई छानबीन में यह बात सामने आई है।
अपर नगर आयुक्त निरंकार सिंह का कहना है कि पड़ताल में स्पष्ट हो गया कि तहसील सदर मौजा बक्शीपुर की अराजी संख्या 467/101 रकबा 0.097 हेक्टेयर और अराजी संख्या 467/109 रकबा 01.2006 हेक्टेयर भूमि सरकार बहादुर कैसरे हिन्द जरिए इन्तजाम म्यूनिसिपल बोर्ड गोरखपुर खेवट खाता संख्या 01 में जम्मन 14(3) कृषि योग्य बंजर खाते की भूमि है। दोनों ही सम्पत्ति नगर निगम की है, जिसका स्वामित्व भी नगर निगम के पास है। उन्होंने कहा कि मिया साहब इस्लामिया इंटर कॉलेज संस्थान सोसाइटी का हो सकता है लेकिन जमीन नगर निगम की है। इस जमीन पर मिया साहब इस्लामिया इंटर कॉलेज और दुकानें संचालित कर रही ‘जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी गोरखपुर को नगर निगम की ओर से जल्द ही नोटिस जारी किया जाएगा।

यह है मामला

बक्शीपुर में जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी की 20 दुकानों को ध्वस्तीकरण के लिए नगर निगम की ओर से दी गई नोटिस पर सवाल खड़े किए गए थे। मामले में रुद्रपुर से पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह उर्फ खोखा सिंह और जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी ने आरोप लगाया था कि नगर निगम ने गलत स्थान पर पैमाइश कर 20 दुकानदारों को 15 फरवरी को नोटिस दी। हालांकि अपर नगर आयुक्त निरंकार सिंह तब भी कह रहे थे कि नगर निगम की राजस्व एवं सदर तहसील की राजस्व टीम की रिपोर्ट पर एक्शन लिया गया है, गलत होने का सवाल ही नहीं है। रविवार को नोटिस पाने वाले सभी 20 दुकानदारों ने उद्योग व्यापार मण्डल के प्रदेश उपाध्यक्ष व महानगर अध्यक्ष सत्य प्रकाश मुन्ना की अगुवाई में जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी के मैनेजर एवं सचिव को ज्ञापन सौंपा था। यही नहीं, मंगलवार को महापौर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव एवं अपर नगर आयुक्त निरंकार सिंह के कार्यालय में ज्ञापन सौंप पर नोटिस निरस्त करने की मांग की थी।

इन दुकानदारों को मिला है नोटिस

अरुणेश गुप्ता, मोहम्मद जुनेल खां, सहाबुद्दीन, वाजिद ली, शिप्रा सामंत, गैटिश कुमार द्विवेदी, गौरव ट्रेडर्स, इर्स्टन एजुकेशन, मेराजुद्दीन, संतोष अग्रवाल, जमालुद्दीन, मोहम्मद तारिक, सत्य प्रकाश सिंह, सत्य नारायण चौरसिया, मोहम्मद इकबाल खान, मोहम्मद महसील, मानस गोयल, सुमित्रा एवं आमिर अमीन को नगर निगम ने अवैध कब्जा हटाने की नोटिस दी है।

‘‘अराजी संख्या 467/109 की जमीन 1930 में ही सोसाइटी के नाम रजिस्ट्री की गई थी। दुकानें और विद्यालय भवन 1934 में बना। हमारी 55 के करीब दुकानें हैं, जिनका किराया सोसाइटी में जमा होता है। बुधवार को नगर निगम में अधिवक्ता की मदद से हमनें भी आपत्ति दाखिल की है।

-महमूद सईद उर्फ हारिश, मैनेजर/ सचिव जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी बक्शीपुर

खास खास

नगर निगम ने जार्ज इस्लामिया हाई स्कूल सोसाइटी के प्रतिरोध को गलत बताया, देंगे नोटिस

नगर निगम का दावा बक्शीपुर में कृषि योग्य बंजर भूमि पर बना मियां साहब इस्लामिया इंटर कॉलेज, दुकानें

बक्शीपुर में 20 दुकानों के ध्वस्तीकरण की नोटिस के बाद उपजा है विवाद

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें