Mob assembled for Murti Visarjan in Gorakhpur - मां की अन्तिम विदाई के लिए उमड़ा शहर DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मां की अन्तिम विदाई के लिए उमड़ा शहर

मां की अन्तिम विदाई के लिए उमड़ा शहर

सौहार्दपूर्ण माहौल में नौ दिन से चल रहे शारदीय नवरात्र पर्व का शुक्रवार को धूमधाम से समापन हुआ। विजय दशमी के दिन मां दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन की शुरुआत हुई। श्रद्घालुओं ने जमकर अबीर गुलाल उड़ाए और जयकारा लगाते हुए प्रतिमा विसर्जन की शुरुआत की। शहर की प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए बनाए गए पांच तालाब में सुबह नौ बजे से ही विसर्जन शुरू हो गया और शाम चार बजे तक 500 प्रतिमाओं का विसर्जन कर दिया गया। शहर की दुर्गावाड़ी सहित प्रमुख प्रतिमाएं शोभायात्रा के साथ शाम से विसर्जन के लिए निकलेंगी।

राप्ती के राजघाट के साथ ही इस बार डोमिनगढ़ में तालाब में प्रतिमा विसर्जन की वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। यह कदम सुप्रीम कोर्ट की ओर से नदियों को प्रदूषित होने से बचाने के लिए आए आदेश के मद्देनजर उठाया गया है। राजघाट पर राप्ती नदी के किनारे तीन तालाब बनाए गए। वहीं डोमिनगढ़ भी दो तालाब बनाए गए हैं। दोनों जगह के तालाबों में मिलाकर सैकड़ों प्रतिमाओं का विसर्जन हो चुका है और देर रात तक 1000 के करीब होने का अनुमान है। इसके अलावा महेसरा और फोरलेन पर बाघागाड़ा के पास भी मूर्तियों का विसर्जन किया जा रहा है। इस बार शहर में कुल 1500 मूर्तियां स्थापित की गई हैं। कुछ प्रतिमाओं का शनिवार को भी विसर्जन किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mob assembled for Murti Visarjan in Gorakhpur