DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गोरखपुर › पूर्वी यूपी में उद्यमिता विकास का केन्द्र बनेगा एमएमएमयूटी
गोरखपुर

पूर्वी यूपी में उद्यमिता विकास का केन्द्र बनेगा एमएमएमयूटी

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Tue, 27 Jul 2021 04:51 AM
पूर्वी यूपी में उद्यमिता विकास का केन्द्र बनेगा एमएमएमयूटी

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता

पूर्वीयूपी में उद्यमिता विकास को जल्द ही गति मिलेगी। रोजगार सृजन का बड़ा साधन होगा। इसका केंद्र मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (एमएमएमयूटी) बनेगा। विश्वविद्यालय ने इसकी शुरुआत कर दी है।

वर्तमान शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालय ने उद्यमिता की पढ़ाई भी शुरू कर दी है। इस कोर्स के संचालन में राष्ट्रीय उद्यमिता विकास संस्थान (ईडीआईआई) मदद कर रहा है। यह देश में उद्यमिता के विकास का एकमात्र संस्थान है। संस्थान के महानिदेशक डॉ. सुनील शुक्ला ने एमएमएमयूटी के कुलपति प्रो.जेपी पांडेय से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान विश्वविद्यालय में कोर्स के डिजाइन और उसके क्रियान्वयन पर चर्चा हुई।

इसी सत्र से शुरू होगा कोर्स

कुलपति ने बताया कि इसी सत्र से कोर्स शुरू किया जा रहा है। इसमें छात्रों के अलावा कैंपस के बाहर रहने वाले लोगों को भी जोड़ा जाएगा। उनमें उद्यमिता के स्किल विकसित किए जाएंगे। कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय में उद्यमिता कोर्स के साथ एक इनक्यूबेशन सेंटर भी शुरू किया गया है। जो कि नए उद्यमियों को व्यवसाय स्थापित करने और उस व्यवसाय के संचालन में भी मदद करेगा। इससे हर साल उद्यमियों की एक नई पीढ़ी तैयार होगी।

सूबे के सात विश्वविद्यालयों में शुरू होगा कोर्स

प्रदेश के औद्योगिक पिछड़ेपन को दूर करने की पहल राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने की है। उनकी पहल के बाद उद्यमिता को विश्वविद्यालय अपने कोर्स में शामिल कर रहे हैं। बीते 22 जुलाई को प्रदेश के सात विश्वविद्यालय के कुलपति के साथ राज्यपाल और राष्ट्रीय उद्यमिता विकास संस्थान के महानिदेशक की मीटिंग हुई है। इस मीटिंग में पूर्वी यूपी से एमएमएमयूटी के कुलपति मौजूद रहे। बैठक में सभी विश्वविद्यालयों को राज्यपाल ने उद्यमिता के कोर्स शुरू करने का निर्देश दिया है। जिससे कि इस क्षेत्र में नई प्रतिभाएं सामने आ सके। उन्हें मंच मिल सके।

संबंधित खबरें