MMMUT Contract done with the cloud lab of Melbourne lab - एमएमएमयूटी का अब मेलबर्न विवि की क्लाउड लैब से हुआ करार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमएमएमयूटी का अब मेलबर्न विवि की क्लाउड लैब से हुआ करार

मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग विभाग एवं मेलबर्न विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया की ‘क्लाउड कंप्यूटिंग एंड डिस्ट्रिब्यूटेड सिस्टम्स प्रयोगशाला’ (क्लाउड्स लैब) के बीच अकादमिक सहयोग बढ़ाने को लेकर समझौता हुआ है। सोमवार को एमएमएमयूटी की तरफ से कुलपति प्रो. श्रीनिवास सिंह ने जबकि मेलबर्न विश्वविद्यालय की तरफ से क्लाउड्स लैब के निदेशक प्रो. आरके बुय्या ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किये।

आर्टिफीशिल इंटेलिजेंस की तरह क्लाउड कंप्यूटिंग कंप्यूटर युग का नया क्षेत्र है, जिसके जरिए एमएमएमयूटी के शोधार्थी अंतर्राष्ट्रीय रिसर्च से जुड़ेंगे। इसमें किसी तरह के काम के लिए नयी प्रोग्रामिंग नहीं करनी पड़ती है। नेट से जुड़े होने पर आप जो चाहे काम कर सकते हैं। समझौते का उद्देश्य मेलबर्न विश्वविद्यालय और एमएमएमयूटी के बीच अंतर्राष्ट्रीय अकादमिक सहयोग बढ़ाने के लिए संयुक्त रूप से शैक्षणिक और शोध गतिविधियों का संचालन करना है। इस समझौते के अंतर्गत दोनों पक्ष क्लाउड कंप्यूटिंग के क्षेत्र में शिक्षण और प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देंगे। 

समझौते के बाद दोनों संस्थान संयुक्त शोध परियोजनाएं चला सकेंगे एवं संयुक्त रूप से अन्य अकादमिक गतिविधियां, सम्मेलन, संगोष्ठी, तकनीकी कार्यशालाएं आदि आयोजित कर सकेंगे। इस समझौते के अंतर्गत क्लाउड्स लैब के विशेषज्ञ सतत शिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से एमएमएमयूटी में शोध और प्रशिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाने में मदद करेंगे।

इसके अतिरिक्त, दोनों संस्थानों के विशेषज्ञ एक दूसरे के संस्थान में विशेष विषयों पर व्याख्यान के लिए भी आमंत्रित किये जाएंगे। क्लाउड्स प्रयोगशाला के विशेषज्ञ एमएमएमयूटी की अकादमिक एवं अन्य आधारभूत संरचना के विकास के लिए सुझाव भी देंगे। समझौते के अनुसार क्लाउड्स प्रयोगशाला और एमएमएमयूटी के विशेषज्ञ संयुक्त रूप से एमएमएमयूटी में अध्ययनरत पीएचडी छात्रों का निर्देशन कर सकेंगे।

क्या है क्लाउड कंप्यूटिंग
क्लाउड कम्यूटिंग ( मेघ संगणना) वास्तव में इंटरनेट-आधारित प्रक्रिया और कंप्यूटर ऐप्लीकेशन का इस्तेमाल है। गूगल एप्स क्लाउड कंप्यूटिंग  का ही एक उदाहरण है जो बिजनेस ऐप्लीकेशन ऑनलाइन मुहैया कराता है और वेब ब्राउजर का इस्तेमाल कर इस तक पहुंचा जा सकता है। इंटरनेट पर सर्वरों में जानकारियां (अनुप्रयोग, वेब पेजेस, प्रोग्राम इत्यादि) सदा सर्वदा के लिए भंडारित रहती हैं और ये उपयोक्ता के डेस्कटॉप, नोटबुक, गेमिंग कंसोल इत्यादि पर आवश्यकतानुसार अस्थाई रूप से संग्रहित रहती हैं। इसे सरल रूप में कहें तो सीधी सी बात है कि अब तक जो सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम आप स्थानीय रूप से अपने कम्प्यूटर और लैपटॉप-नोटबुक पर डाउनलोड करते थे, क्लाउड कंप्यूटिंग के बाद इनकी कतई आवश्यकता नहीं होगी क्योंकि ये सब सॉफ्टवेयर अब आपको वेब सेवाओं के जरिए मिला करेंगी। 

एक महीने में एमएमएमयूटी का तीसरा महत्वपूर्ण करार
एमएमएमयूटी के यूआरओ डॉ. अभिजीत मिश्रा ने बताया कि पिछले एक माह में एमएमएमयूटी का किसी प्रतिष्ठित संस्थान के साथ अकादमिक सहयोग बढ़ाने के लिए किया गया यह तीसरा समझौता है। दो दिन पूर्व एमएमएमयूटी ने शिक्षण, शोध एवं प्रशिक्षण को और बेहतर बनाने के लिए आईआईटी रूड़की से हाथ मिलाया है। इसके पूर्व मई में एमएमएमयूटी ने आईआईटी कानपुर से भी इसी तरह का समझौता किया। इससे पूर्व विवि ने राइक्यूस विश्वविद्यालय जापान, कार्लोस विश्वविद्यालय स्पेन, वॉरसॉ विश्वविद्यालय पोलैंड, विस्कांसिन विश्वविद्यालय अमेरिका, नार्थ डकोटा राज्य विश्वविद्यालय अमेरिका, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद उत्तर प्रदेश सरकार, बायोएक्सिस डीएनए रिसर्च सेंटर हैदराबाद, एनआईटी सूरत, एमएनएनआईटी प्रयागराज, आईआईआईटी प्रयागराज, राष्ट्रीय पर्यावरण अभियांत्रिकी शोध संस्थान नागपुर, एवं टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज से भी करार किया था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MMMUT Contract done with the cloud lab of Melbourne lab