Many millions of roads road drain - आशियाने करोड़ों के, सड़क, नाली नदारद DA Image
11 दिसंबर, 2019|11:40|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आशियाने करोड़ों के, सड़क, नाली नदारद

आशियाने करोड़ों के, सड़क, नाली नदारद

1 / 2शिवपुर सहबाजगंज वार्ड के शताब्दीपुरम कॉलोनी के लोग विभिन्न समस्याओं से जूझ रहे हैं। विगत 20 वर्षों से नगर निगम को हाउस और जल कर देने के बावजूद कॉलोनी के लोग मूलभूत सुविधाओं से महरूम हैं। कई बार...

आशियाने करोड़ों के, सड़क, नाली नदारद

2 / 2शिवपुर सहबाजगंज वार्ड के शताब्दीपुरम कॉलोनी के लोग विभिन्न समस्याओं से जूझ रहे हैं। विगत 20 वर्षों से नगर निगम को हाउस और जल कर देने के बावजूद कॉलोनी के लोग मूलभूत सुविधाओं से महरूम हैं। कई बार...

PreviousNext

शिवपुर सहबाजगंज वार्ड के शताब्दीपुरम कॉलोनी के लोग विभिन्न समस्याओं से जूझ रहे हैं। विगत 20 वर्षों से नगर निगम को हाउस और जल कर देने के बावजूद कॉलोनी के लोग मूलभूत सुविधाओं से महरूम हैं। कई बार शिकायत किए जाने के बावजूद नगर निगम द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

पादरी बाजार क्षेत्र के श्रीराम चौराहे से सटे शताब्दीपुरम कॉलोनी में लगभग 200 परिवार विगत 20 वर्षों से रहते हैं। स्थानीय निवासी वीके त्रिपाठी ने बताया कि बीस वर्षों से नगर निगम का टैक्स भर रहे हैं। बावजूद इसके वह सभी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। दो दशक में कॉलोनी में सड़क का निर्माण नहीं हो सका। कॉलोनी में नालियां भी नहीं बनीं हैं, जिसके चलते बरसात के दिनों में लोगों को मजबूरन घुटनों तक पानी में चलकर सड़क पार करना पड़ता है। स्थानीय निवासी प्रमोद कुमार ने बताया कि मोहल्ले में लगभग 700 मीटर दूरी तक कहीं भी कूड़ेदान नहीं रखा गया है जिसके चलते मोहल्ले के लोग मजबूरन सड़कों के किनारे व आसपास खाली पड़े प्लॉट में कूड़ा फेंकने को मजबूर हैं। स्थानीय पार्षद से कई बार कूड़ापात्र रखे जाने की मांग की गई लेकिन कुछ नहीं हुआ।

नहीं होती है सफाई

कॉलोनी में नगर निगम की सफाई व्यवस्था भी लचर है। स्थानीय लोगों के घरों के सामने कूड़ा पसरा रहता है। झाड़ू लगे तो महीनों हो चुके हैं। स्थानीय नागरिकों का आरोप है कि निगम के सुपरवाईजर कालोनी की तरफ झांकते तक नहीं है। पूरे मोहल्ले में एक भी कूड़ेदान नहीं है। जिससे सड़क पर कूड़ा फेंकना मजबूरी है।

बांस और लकड़ी के खंभे के सहारे बिजली के तार

यहां के लोग बांस व लकड़ी के खंभों के सहारे बिजली का तार ले जाने को मजबूर हैं। घर से 200 मीटर की दूरी पर ही बिजली का खंभा लगा हुआ है। जीडीए द्वारा नक्शा पास करते समय ही मूलभूत सुविधाओं के लिए कॉलोनी के लोगों से शुल्क लिया गया था लेकिन सुविधा के नाम पर सिर्फ उन्हें आश्वासन ही मिल रहा है।

बोले जिम्मेदार

सड़क और नाली का प्रस्ताव बनाकर नगर निगम में भेज दिया गया है। धनाभाव के कारण टेंडर जारी नहीं हो सका है। धन अवमुक्त होते ही वार्ड में काम कराया जायेगा। श्रीराम चौराहा से विनय सिन्हा के मकान से होते हुए आरके सिंह के मकान तक 800 मीटर दूरी तक सड़क व नाली निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजा गया है।

सरोज सिंह, पार्षद

निगम क्षेत्र में वार्डों की अंदर की सड़कों और नालियों के निर्माण को लेकर शासन को करीब 170 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा गया है। इसमें सभी वार्डों की सड़क और नालियां हैं। शताब्दीपुरम की समस्या को लेकर निरीक्षण किया जाएगा। जो भी प्रस्ताव बने हैं उन्हें जल्द पूरा करने की कोशिश होगी।

सुरेश चन्द्र, मुख्य अभियंता, नगर निगम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Many millions of roads road drain