DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशखबरी! अब मनरेगा मजदूरों को भी मिलेगा ईपीएफ का लाभ

अब मनरेगा मजदूरों को भी मिलेगा ईपीएफ का लाभ

केन्द्र सरकार की मनरेगा योजना के तहत काम करने वाले कर्मचारियों व मजदूरों को भी ईपीएफ का लाभ मिलेगा। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन दिल्ली ने इस सम्बन्ध में ग्राम विकास विभाग और अपने क्षेत्रीय कार्यालयों को दिशा-निर्देश दिया था।

इस निर्देश के क्रम में पीएफ आयुक्त ने परिक्षेत्र के 12 सीडीओ को पत्र भेजकर मनरेगा मजदूरों के भुगतान से ईपीएफ अंशदान की कटौती कर ईपीएफ खाते में जमा करने का निर्देश दिया था। निर्धारित तिथि तक किसी ने भी ईपीएफ अंशदान की रकम जमा नहीं की। इसके बाद पीएफ आयुक्त ने सभी सीडीओ को नोटिस भेजकर मनरेगा के तहत काम करने वाले कर्मचारियों का विवरण तलब किया है।

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन क्षेत्रीय कार्यालय गोरखपुर का कहना है कि कुशीनगर, देवरिया और संतकबीरनगर जिले के मुख्य विकास अधिकारी ने मनरेगा के तहत काम करने वाले कर्मचारियों व मजदूरों का रिकार्ड जमा किया है। अब ईपीएफ अंशदान की गणना की जा रही है। इसके साथ ही अन्य जिलों के सीडीओ के खिलाफ 7ए की नोटिस भेजी जा रही है। इसके बाद भी सुनवाई पर शामिल नहीं होने वाले सीडीओ के खिलाफ कड़ा एक्शन होगा।

पीएफ कमिश्नर यूएन मिश्र का कहना है कि वर्तमान समय में पीएमआरपीवाई योजना के तहत कोई भी नियोक्ता अपने नए कर्मचारियों का ईपीएफ में पंजीकरण कराकर नियोक्ता अंशदान 8.33 फीसदी प्रतिमाह बचा सकता है। इसका लाभ आगामी 2019 तक नियोक्ताओं को मिलेगा। ग्राम्य विकास विभाग को चाहिए की इस योजना का लाभ उठाए। सभी जिलों के सीडीओ का ईपीएफ खाता बनाकर भेज दिया गया है। उन्हें कर्मचारियों का नाम और दूसरे विवरण भरकर ईपीएफ अंशदान की रकम का उल्लेख करते हुए ई-ट्राजक्शन के जरिए रकम जमा करनी है।

........

इन जिलों के सीडीओ को भेजी गई नोटिस

श्रावस्ती, गोण्डा, बलरामपुर, बहराईच, बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्वार्थनगर, महराजगंज, देवरिया, कुशीनगर, गोरखपुर और आजमगढ के सीडीओ को नोटिस भेजी गई है। मनरेगा योजना के तहत सभी जिलों में मजदूर कार्यरत है।

............

सीडीओ को मनरेगा मजदूरों का विवरण निर्धारित फार्म पर देना है

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन गोरखपुर परिक्षेत्र के अधिकारियों का कहना है कि मनरेगा मजदूरों का विवरण निर्धारित फार्म पर ग्राम्य विकास विभाग को भरकर आवंटित ईपीएफ नम्बर के साथ देना है। दिल्ली मुख्यालय के निर्देश पर सभी का ईपीएफ पंजीकरण नम्बर नोटिस में भेजा गया है। इसके बाद जैसे ही विवरण मिलेगा मजदूरों का ईपीएफ पंजीकरण कर उन्हें खाता नम्बर भी आंवटित कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Manrega labors will get EPF benifit