Magistrates location are traced by GPS in Gorakhpur - जीपीएस बता रहा है मजिस्‍ट्रेटों की लोकेशन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीपीएस बता रहा है मजिस्‍ट्रेटों की लोकेशन

जीपीएस बता रहा है मजिस्‍ट्रेटों की लोकेशन

चुनावी समर में जिम्मेदारी निभाने वाले सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट के सरकारी वाहन जीपीएस से लैस हैं। यह पहली बार हो रहा है कि चुनावी प्रक्रिया को बेहतर बनाने के लिए जीपीएस मेपिंग का सहारा लिया जा रहा है। जीपीएस के जरिए आला अफसर चुनाव से जुड़े सभी अधिकारियों के गतिविधि की एक-एक पल की जानकारी मिल रही है।

सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट के वाहनों में लगाए गए हैं जीपीएस

एक-एक पल की मिल जा रही जानकारी, कहां पहुंचे मजिस्ट्रेट

चार दर्जन से अधिक सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट हुए हैं तैनात

चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के साथ हाईटेक सिस्टम का सहारा लिया जा रहा है। ताकि चुनाव में पल पल की जानकारी मिलती रही। इसी के चलते सभी सरकारी वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाया गया है।

जीपीएस के जरिए अधिकारी अपनी सुविधानुसार यह पता कर लेंगे कि कौन सा सेक्टर या जोनल मजिस्ट्रेट किस जगह पर भ्रमण कर रहा है। साथ ही यदि कहीं पर चुनाव में शोर शराबा आदि की सूचना मिलती है तो जीपीएस की लोकेशन के आधार पर निकट वाले जोनल व सेक्टर मजिस्टेट को अफसर पहुंचने के लिए आदेश देंगे। इससे सरकारी मशीनरी को काफी राहत मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Magistrates location are traced by GPS in Gorakhpur