Lineman died due to Electric shock in Sidharthnagar - बिजली विभाग की लापरवाही की भेंंट चढ़ा लाइनमैन, मौत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली विभाग की लापरवाही की भेंंट चढ़ा लाइनमैन, मौत

Current, janitor, death

सिद्धार्थनगर के जोगिया कोतवाली क्षेत्र के नगरा पावर हाउस की लापरवाही ने एक संविदा लाइनमैन की जान ले ली। शटडाउन के बाद भी बिजली सप्लाई दे देने से वह तार में चिपक कर लटका रहा। गुस्साए ग्रामीणों ने नौगढ़-बांसी मार्ग जाम कर दिया। मौके पर पहुंचे एडीएम सहित कई आलाअफसरों ने समझाबुझाकर चक्का जाम समाप्त कराया। पीड़ित परिवार को एडीएम ने दो लाख का चेक सौंपा। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंचे सांसद जगदम्बिका पाल ने पीड़ित परिवार को किसान दुर्घटना व संविदाकर्मी बीमा की पांच-पांच लाख की सहायता देने को कहा। इस पर एडीएम ने जल्द मुहैया कराने का आश्वासन दिया। 

जोगिया क्षेत्र के नगर गांव की बिजली खराब हुई तो उसे ठीक करने की जिम्मेदारी जोगिया कोतवाली क्षेत्र के कटया गांव निवासी कमलेश यादव (45) पुत्र परमात्मा यादव को नगर पावर स्टेशन से दी गई। वह पॉवर स्टेशन से शटडाउन लेकर खराब बिजली ठीक कराने पोल पर चढ़ गया। अभी वह तार कस ही रहा था कि बिजली की सप्लाई आ गई। इससे वह तार में चिपक कर जलने लगा। उसे जलता देख लोगों ने शोर मचाया। बाद में बिजली काट दी गई लेकिन उसका शरीर घंटों तार से लटका रहा। 

सूचना के बाद भी कोई बिजली विभाग का कर्मचारी, अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा तो ग्रामीणों ने करौंदा मसिना के पास नौगढ़-बांसी मार्ग जाम कर दिया और प्रशासन के खिलाफ नारबाजी करने लगे। इस बीच एडीएम सीताराम गुप्त, एडिशनल एसपी मायाराम वर्मा, एसडीएम सदर मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों से हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाते हुए जाम को समाप्त कराया। साथ ही मौके पर एडीएम सीताराम गुप्त ने पीड़ित परिवार को दो लाख रुपये का चेक दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lineman died due to Electric shock in Sidharthnagar