DA Image
22 अप्रैल, 2021|1:05|IST

अगली स्टोरी

गोरखपुर में दो डायग्नोस्टिक सेंटरों के लाईसेंस निलंबित जानिए क्यों

ultrasound centers named after doctors of delhi-meerut

गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य के बारे में गलत जानकारी देकर छल करने की आरोपित डॉक्टरों के सेंटरों के खिलाफ प्रशासन ने कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है। पीड़ित अभिषेक कुमार पांडेय के भूख हड़ताल को देखते हुए डीएम के विजयेंद्र पांडियन ने दो डायग्नोस्टिक सेंटरों को निलंबित कर दिया है। एसडीएम गौरव सिंह सोगरवाल ने बताया कि गरुवार को सेंटर सील किए जाएंगे। 
डीएम ने बताया कि इस मामले में सहजनवां स्थित न्यू आदित्य अल्ट्रासाउंड सेंटर को सील करते हुए उसके निलंबन की कार्रवाई की जा चुकी है। इसके अलावा बेतियाहाता स्थित स्पर्श इमेजिंग एंड डायग्नोस्टिक सेंटर और प्रज्ञा हॉस्पिटल के डायग्नोस्टिक सेंटर को निलंबित करते हुए सील करने के आदेश दिए गए हैं। बता दें कि कार्रवाई न होने से नाराज अभिषेक पांडेय अपने साढ़े चार माह के नवजात और अपनी पत्नी के साथ भूख हड़ताल पर डीएम कार्यालय के सामने बैठे थे। कार्रवाई के आश्वासन पर वह देर शाम सात बजे अपना हड़ताल तोड़े हैं। हड़ताल खत्म होने के बाद डीएम ने इस मामले में सख्त कार्रवाई की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Know why licenses of two diagnostic centers in Gorakhpur suspended