DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीपावली और छठ के तुरंत बाद दिल्ली-मुंबई जाना मुश्किल

New Train

जहां छठ और दीपावली में अभी साढ़े तीन महीने हैं वहीं इस पर्व पर अपने घर आने के बाद वापस जाने वाले यात्रियों की मुश्किलें अभी से ही बढ़ गई हैं। दरअसल दिल्ली और मुम्बई जाने वाली लगभग सभी प्रमुख ट्रेनों की सीट पैक हो चुकी हैं। गोरखपुर से दिल्ली और मुम्बई जाने वाली प्रमुख ट्रेनों जैसे वैशाली, गोरखधाम, आम्रपाली और एसी एक्सप्रेस में जगह नहीं है।  यह हाल तब है कि जब बीते वर्षों में मुम्बई और दिल्ली की ट्रेनों की संख्या और फेरों में इजाफा हुआ है। सर्वाधिक मारामारी तो एसी कोच के लिए है। वहीं मुम्बई जाने के लिए कुशीनगर का एसी थर्ड और सेकेण्ड पूरी तरह से पैक हो गया है जबकि स्लीपर में चंद सीटें ही बची हैं। बांद्रा तक जाने वाली अवध एक्सप्रेस के किसी भी श्रेणी में सीट नहीं है।

दिक्कत
दीपावली-छठ मनाने के बाद घर वापस जाने वालों की बढ़ी मुश्किल
दीपावली और छठ के समय आने वाली ट्रेनें पहले ही फुल

 
सात नवम्बर को दीपावली है और 13 नवम्बर को छठ। इन दोनों त्योहारों पर बड़ी संख्या में दिल्ली और मुम्बई में काम करने और पढ़ने वाले लोग गोरखपुर समेत आते हैं। अधिकतर लोग छठ मनाकर ही वापस लौटते हैं। जिन्हें आन की टिकट मिल गई उन्हें अब जाने की चिंता सताने लगी है। दरअसल आरक्षण का एआरपी (एडवांस रिजर्वेशन पीरियड) खुलते ही महज चंद घंटों में ही सभी प्रमुख ट्रेनों की सीटें पैक हो गईं।
   गोरखपुर से दिल्ली जाने वाली गोरखधाम, वैशाली, गोरखधाम और सप्तक्रांति में 13 नवम्बर से 20 नवम्बर तक बर्थ उपलब्ध नहीं हैं वहीं मुम्बई से आने वाली कुशीनगर और अवध एक्सप्रेस का भी यही हाल है। 
तीन विकल्प से आसान बना सकते हैं यात्रा
अगर आप भी ट्रेनों के पैक होने का शिकार हो गए हैं तो निराश न हों आपके पास फ्लाईट, स्पेशल ट्रेन और बस का विकलप मौजूद है। रेलवे दीपावली औ छठ पर चलने वाली स्पेशल ट्रेनों की सूची आने वाले कुछ महीनों में जारी करेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:It is difficult to go to Delhi-Mumbai immediately after Deepawali and Chhath