irregularities in dustbin purchase in Gorakhpur - कूड़ेदान की खरीद में भी कर दी गड़बड़, सचिवों से मांगा ब्यौरा DA Image
13 दिसंबर, 2019|4:30|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कूड़ेदान की खरीद में भी कर दी गड़बड़, सचिवों से मांगा ब्यौरा

स्वच्छ भारत मिशन के तहत गांवों में सार्वजनिक जगहों पर कूड़ेदान लगाए गए। लेकिन अब इस योजना के अंतर्गत कूड़ेदान लगवाने में अनियमितता की शिकायतें मिल रही हैं। इसका संज्ञान लेते हुए ग्राम पंचायतों से जानकारी मांगी गई है। खामी मिली तो ग्राम सचिव और ग्राम प्रधान दोनों पर गाज गिर सकती है। मुख्य विकास अधिकारी के निर्देश पर सभी सहायक विकास अधिकारी अपने अपने विकास खण्ड से व्योरा जुटा रहे हैं। 

जिले के 20 विकास खंडों में  राज्य एवं 14वां वित्त के मद से 4000 से अधिक कूड़ेदान खरीदे गए। आरोप है कि बाजार में 1500 से 2000 रुपये मूल्य पर उपलब्ध कूड़ेदान को 4 से 5 हजार रुपये में खरीदा गया। न तो गुणवत्ता का ध्यान रखा गया। कुछ ग्राम पंचायतों में कूड़ादान लगाए बगैर ही धन का भुगतान करा लिया। मुख्य विकास अधिकारी ने कुछ स्थानों पर प्रारंभिक जांच कराई तो शिकायते सही मिली। लिहाजा उन्होंने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए न केवल व्योरा मांगा बल्कि भौतिक सप्तापन के भी निर्देश दिए हैं। जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर ने बताया एक सप्ताह में जांच रिपोर्ट मिल जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:irregularities in dustbin purchase in Gorakhpur