DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गोरखपुर  ›  टीकाकरण के लिए धर्मगुरुओं का सहयोग लेगा स्वास्थ्य विभाग
गोरखपुर

टीकाकरण के लिए धर्मगुरुओं का सहयोग लेगा स्वास्थ्य विभाग

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 08:20 PM
टीकाकरण के लिए धर्मगुरुओं का सहयोग लेगा स्वास्थ्य विभाग

खूनीपुर स्थित मदरसा अंजुमन में उलेमा के साथ हुई बैठक

धर्मगुरुओं के जरिये दूर की जाएगी मन की भ्रांति

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता

कोविड टीकाकरण के लिए लोगों के बीच जागरूकता लाने के लिए मदरसा शिक्षकों के साथ ही स्वास्थ्य विभाग ने धर्मगुरुओं की तरफ भी हाथ बढ़ाया है। विभाग धर्मगुरुओं के जरिये लोगों के मन से कोविड टीकाकरण के प्रति भ्रांतियों को दूर करेगा। इसी कड़ी में खूनीपुर स्थित मदरसा अंजुमन में उलेमा और गणमान्य लोगों के साथ बुधवार को बैठक कर उनसे टीकाकरण में सहयोग मांगा गया।

बैठक में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी आशुतोष पांडेय भी पहुंचे और टीकाकरण का महत्व बताया। अध्यक्षता कर रहे अंजुमन इस्लामिया मदरसा कमेटी के अध्यक्ष महबूब सईद रईस ने स्वास्थ्य विभाग, जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग को आश्वस्त किया कि टीकाकरण बढ़ाने के लिए उनकी तरफ से पूरा योगदान दिया जाएगा।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने बताया कि सामुदायिक संवाद कार्यक्रमों के जरिये टीकाकरण को बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। इसमें यूनीसेफ, डब्ल्यूएचओ, यूएनडीपी और सीएचएआई तकनीकी सहयोग कर रही हैं। सभी के सम्मिलित प्रयासों का लक्ष्य है कि रोजाना के निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष टीकाकरण को बढ़ाया जाए। इसी कड़ी में धर्मगुरूओं को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। चूंकि उनका समुदाय पर गहरा प्रभाव होता है, इसलिए अगर वह कोई अपील करते हैं तो लोग टीकाकरण के लिए आगे आएंगे। वर्चुअल कार्यक्रमों और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए प्रमुख लोगों को संवेदीकृत किया जा रहा है ताकि उनके जरिये समुदाय तक प्रमुख संदेश पहुंच सके।

धर्मगुरुओं से कहा गया कि वह लोगों के मन से इस भ्रांति को दूर करें कि टीकाकरण से मर्दानगी पर कोई असर पड़ता है। सिर्फ गर्भवस्था में टीकाकरण नहीं होना है। बाकी 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग टीका लगवा सकते हैं। गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोग अपने चिकित्सक के परामर्श पर टीका लगवाएंगे। इस अवसर पर प्रधानाचार्य रफीउल्ला, वार्ड मेंबर संजीव सिंह प्रमुख तौर पर मौजूद रहे।

संबंधित खबरें