DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सैयद मोदी के शहर को नहीं मिला बैडमिण्टन का कैम्प

खेल निदेशालय द्वारा नए सत्र में रीजनल स्पोर्ट्स स्टेडियम में बैडमिण्टन का कैम्प नहीं दिए जाने पर संघ व खिलाड़ियों में निराशा छा गई है। बैडमिण्टन का बड़ा हॉल और अन्य सुविधाएं होने के बावजूद आवंटन नहीं होना सभी को अखर रहा है। खेल विभाग द्वारा संचालित होने वाले विभिन्न खेल कैम्पों के तहत पिछले साल तक चले बैडमिण्टन को इस बार शिविर से हटा दिया गया है। जबकि बैडमिण्टन को छोड़कर पिछले साल तक चले सभी कैम्पों का आवंटन नए सत्र के लिए भी हुआ है। एनईआर रेलवे टीम के कोच संजीत प्रधान ने बताया कि इस शहर ने राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के बैडमिण्टन खिलाड़ी दिए हैं। इसमें प्रमुख नाम स्व.सैयद मोदी का है, जिन्होंने लगातार सात वर्षों तक राष्ट्रीय चैम्पियन व कामनवेल्थ्ज्ञ में गोल्ड मेडल जीता है। यहीं से स्व.टीएन सेठ, आबिद हैदर, एसएन सिन्हा, वाकर हैदर, संजय श्रीवास्तव, मनीष सिंह, प्रदीप अग्रवाल जैसे बड़े नाम निकले हैं। साथ ही चन्द्रभूषण त्रिपाठी, बृजेश यादव, बालकेशरी यादव जैसे खिलाड़ी नेशनल स्तर पर भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। सीएम का शहर होने के बावजूद बैडमिण्टन के नहीं मिलने से हॉकी के बाद इस खेल में सबसे ज्यादा खिलाड़ी देने वाला इस खेल की नर्सरी खत्म हो जाएगी। इसक नतीजा यह होगा कि खेल की प्रेक्टिस का खर्च बढ़ेगा और यहां के खिलाड़ियों भी बाहर जाकर ही ट्रेनिंग लेनी पड़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gorakhpur not got Saiyad Modi Badminton Camp