DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हड़ताल के कारण देवरिया में 124 बैंक शाखाओं में काम-काज बंद 

हड़ताल के कारण देवरिया जिले में 124 बैंक बंद हैं। इस दौरान अधिकांश एटीएम के भी शटर गिरे हुए हैं। बैंको की हड़ताल के कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 
              वेतन पुनरीक्षण में महज दो फीसदी की बढ़ोत्तरी से आक्रोशित यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने हड़ताल का आह्वान किया है। देवरिया जिले में बैंककर्मचारी पंजाब नेशनल बैंक के स्टेशन रोड शाखा पर एकत्रित हुए। इस दौरान सरकार की नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद मोटरसाइकिल जुलूस निकालकर शहर के निजी बैंकों की शाखाओं पर जाकर हड़ताल के लिए समर्थन मांगा। वहां से कलक्ट्रेट और फिर भारतीय स्टेट बैंक की राघव नगर मुख्य शाखा पर पहुंचे। वहां स्टेट बैंक ऑफ इंडिया स्टॉफ एसोसिएशन, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अधिकारी संघ के साथ मिलकर प्रदर्शन किया।

फिर लौटकर वापस पीएनबी स्टेशन रोड आ गए। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के जिला सचिव डीके गुप्ता और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया स्टॉफ एसोसिएशन के आंचलिक सचिव एसपी मिश्रा संयुक्त रुप से कहा कि बैंककर्मियों को सम्मानजनक वेतन चाहिए। सरकार वेतन पुनरीक्षण में महज दो फीसदी वेतन वृद्धि देकर अपमानित कर रही है। बैंककर्मी इससे आहत हैं। इससे पहले 15 फीसदी वेतन वेतन वृद्धि मिलती रही है। प्रदर्शन में एसबीआई अधिकारी संघ के क्षेत्रीय सचिव गौरीशंकर शाही, पीके अग्रवाल, वंदना, घनश्याम यादव, विशाल चतुर्वेदी, सुमित कुमार, एसडी यादव, रामजी आदि शामिल रहे।

 करीब सौ करोड़ से अधिक का लेनदेन प्रभावित
बैंको की हड़ताल से लेनदेन पर व्यापक असर पड़ा है। अकेले एसबीआई मेन ब्रांच में करीब पांच करोड़ रुपए के चेकों की रोजाना क्लियरिंग होती है। छ: करोड़ से अधिक नकद लेनदेन भी होता है। अनुमान के मुताबिक सौ करोड़ का लेनदेन प्रभावित हुआ है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Due to strike work in 124 bank branches closed