DA Image
29 फरवरी, 2020|7:06|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएम ने बताया, गोरखपुर में बैंकों ने बांटे 1406 करोड़ के ऋण 

गोरखपुर के जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि गोरखपुर जिले में वार्षिक ऋण योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 में 1406 करोड़ का ऋण वितरित किया जा चुका है। वित्तीय वर्ष 2017-18, 2018-19 में क्रमश 2939 करोड़ और 3760 करोड़ का ऋण वितरण किया गया था। जनपद का ऋण जमा अनुपात माह सितम्बर 2019 में 41.64 प्रतिशत था जबकि माह दिसम्बर में बढ़कर 42.84 हो गया। इसी प्रकार जनपद में वार्षिक ऋण योजना अन्तर्गत माह सितम्बर 2019 तक 2172.43 करोड़ की प्रगति के सापेक्ष दिसम्बर 2019 त्रैमास में उपलब्धि 965.41 करोड़ की वृद्धि के साथ 3137.83 करोड़ रही। वर्ष 2020 तक शत प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त करने के लिए उन्होंने बैंकों को निर्देश दिए हैं।

जारी विज्ञप्ति में डीएम ने बताया कि जनपद का कुल ऋण मार्च 2018 के मुकाबले सितंबर में 11109 करोड़ के स्तर को पार कर गया। सीडी रेशियो मार्च 2018 मे 36.17 से बढ़ते हुए सितम्बर तिमाही में 41.64 प्रतिशत तक पहुंच चुका है। औसत सीडी रेशियों को उपर लाने के लिए सभी बैकों को प्रयास करने के निर्देश दिए गए हैं। वार्षिक ऋण योजना अन्तर्गत आवंटित लक्ष्यों में गोरखपुर जनपद ने सर्वाधिक लक्ष्यों की प्राप्ति की है। वित्त मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशानुसार प्रदेश में कार्यरत पूर्वान्चल क्षेत्रीय बैक एवं काशी गोमती, क्षेत्रीय ग्रामीण बैकं का विलय बडौदा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में 01 अप्रैल 2020 से प्रभावी होगा।

विलय के बाद इस बैंक का प्रधान कार्यालय जनपद रायबरेली से स्थानान्तरित होकर गोरखपुर में स्थापित किया जाएगा। विलय के पश्चात यह बैंक लगभग 2000 शाखाओं के साथ भारत का सबसे बड़ा ग्रामीण बैंक होने के साथ प्रदेश के नागरिकों को बेहतर बैकिंग सुविधा प्रदान करने में सक्षम होगा। 
  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DM said banks have distributed 1406 crore loan in gorakhpur