DA Image
30 मार्च, 2021|3:43|IST

अगली स्टोरी

आंखों के इलाज के लिए जिला अस्पताल को मिलीं आधुनिक मशीनें

आंखों की बीमारी से जूझ रहे मरीजों के लिए राहत की खबर है। जिला अस्पताल में आंखों की जांच व इलाज के लिए दो नई मशीनें मिली हैं। इससे मरीजों को चश्मे का नंबर और आंखों पर दबाव की जांच हो सकेगी। शासन ने आंख के मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के लिए दो अत्याधुनिक मशीने 'नॉन कांटेक्ट मशीन' और 'ऑटो रैप विथ कैरेटो मीटर' अस्पताल के नेत्र रोग विभाग को उपलब्ध कराया है। मंगलवार को नेत्र रोग की ओपीडी में मशीन की आपूर्ति करने वाली कम्पनी के इंजीनियर ने डॉक्टरों के सामने मरीजों की जांच की। एसआईसी डॉ.आरके गुप्ता ने बताया कि नई मशीन से होने वाली जांच से आंखों में संक्रमण का खतरा नहीं रहेगा। पहले आंखों को छूकर या फिर दवा डालकर बीमारियों की जांच होती थी। इस नॉन कांटेक्ट मशीन का पूरा नाम टोनो मीटर विद पेकी मीटर है। इसमें काला मोतिया से लेकर आंखों के प्रेशर की जांच संभव है। इस मशीन के प्रयोग से एक मिनट में मरीज की जांच होगी। पहले एक मरीज की जांच में पांच से दस मिनट का समय लगता था। ऑटो रैप विथ कैरेटो मीटर से चंद मिनट में चश्में का नम्बर मरीजों को उपलब्ध कराया जा सकेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:District Hospital got mordern Machines for Eye treatment