DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैन बसेरे में ¸मैली चादरें, शौचालय भी बदतर

रैन बसेरे में ¸मैली चादरें, शौचालय भी बदतर

ठंड को देखते हुए प्रशासन ने रैन बसेरों की हालत दुरुस्त करने के निर्देश दे दिए हैं। बावजूद इसके सभी रैन बसेरों की हालत जस की तस बनी हुई है। बुधवार को छात्र-संघ चौराहा से सटे हुए स्थित रैन बसेरे में शाम के समय दो केयरटेकर के अलावा दो लोग मौजूद थे। दोनों ही केयरटेकर के पहचानने वाले थे। रैन बसेरे में कुल 14 बेड है जो तलों में बंटे हुए हैं। नीचे के तल में स्थित तीन महिला व सात पुरुष बेड लगे हैं। सभी बेडों पर बिछी चादरें पूरी तरह से गंदी हैं।

इसके अलावा ओढ़ने के लिए रखी रजाई बेहद गंदी हैं। इसके अलावा सभी टॉयलेट व बाथरूम गन्दे दिख रहे थे। देखने से प्रतीत हो रहा था कि विगत कई दिनों से टॉयलेट की साफ-सफाई नहीं की गई है। रैन बसेरे के केयरटेकर ओपी पांडेय व अशोक सिंह ने बताया कि सभी चादरें धुलने के लिए दी गई हैं। दो दिनों के भीतर सभी चादरें व रजाई के कवर धुलकर आ जाएंगे जिससे शुक्रवार को सभी बेडों पर धुली हुई चादरें बिछा दी जायेंगी। कमरे में अन्य चीजें दुरुस्त कर ली गई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dirty bed sheets found in Rain Baseras in Gorakhpur