DA Image
30 मई, 2020|2:19|IST

अगली स्टोरी

गोरखपुर में पाइप लाइन बिछाने के लिए उखाड़ दी इंटरलाकिंग, लोग परेशान 

गोरखपुर के गोलघर काली मंदिर के सामने मारुति सेंटर वाली गली में मिनी ट्यूबवेल लगाने के लिए तोड़ी गई इंटरलाकिंग पाइप लाइन बिछाकर छोड़ दी गई है। करीब दो महीने से लोग उखड़े इंटरलाकिंग पर चलने को मजबूर हैं। गली में तमाम लोग नर्सिंग होम में जाते हैं। उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

सिविल लाइंस वार्ड की इस गली में पिछले दिसम्बर महीने में मिनी ट्यूबवेल लगा था। पानी की सप्लाई होते ही जर्जर पाइप लाइन फटने लगी। जिसके बाद पार्षद की पहल पर नई पाइप लाइन बिछाई गई। पाइप लाइन बिछे हुए दो महीने से अधिक का समय गुजर चुका है, इंटरलाकिंग सड़क नहीं बन रही है। गली में रहने वाले लोगों का कहना है कि गली में नर्सिंग होम है। वहां रोज मरीज आते हैं, उन्हें आने जाने में काफी दिक्कत हो रही है। मरीज को नर्सिंग होम में चिकित्सक को दिखाने गए मिया बाजार निवासी पपलू दूबे ने बताया कि हर 15 दिन पर चेकअप कराने आना होता है। 

गाड़ी ले जाने में काफी दिक्कत होती है। पाइप लाइन बिछेगी तो इससे कुछ दिक्कत होगी, लेकिन इसकी समय-सीमा तो होनी ही चाहिए। उखड़ी इंटरलाकिंग से स्कूली बच्चों को काफी दिक्कत हो रही है। उपसभापति और स्थानीय पार्षद अजय राय का कहना है कि पाइप लाइन की टेस्टिंग चल रही है। तत्काल में इंटरलाकिंग इस लिए नहीं हो रहा है कि लीकेज से कहीं इसे फिर न उखाड़ना पड़े। जल्द ही इंटरलाकिंग सड़क का निर्माण करा दिया जाएगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:destroyed interlocking for pipe line in gorakhpur public facing problem in gorakhpur