ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरअसुरन से पादरी बाजार तक सिर्फ टू लेन सड़क बनाने की मांग

असुरन से पादरी बाजार तक सिर्फ टू लेन सड़क बनाने की मांग

गोरखपुर, निज संवाददाता। असुरन चौक से लेकर पादरी बाजार तक बन रहे फोरलेन से

असुरन से पादरी बाजार तक सिर्फ टू लेन सड़क बनाने की मांग
असुरन से पादरी बाजार तक सिर्फ टू लेन सड़क बनाने की मांग
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरSun, 23 Jun 2024 03:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर, निज संवाददाता।
असुरन चौक से लेकर पादरी बाजार तक बन रहे फोरलेन से प्रभावित दुकानदारों ने शनिवार को डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान लोगों ने फोरलेन की बजाय टू लेन सड़क बनाने की मांग को लेकर सीएम को संबोधित पत्रक भी प्रशासनिक अधिकारियों को सौंपा। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि असुरन से बीआरडी मेडिकल कॉलेज, असुरन से कौआबाग और जेल बाईपास रोड पादरी बाजार तक फोरलेन बनने से ट्रैफिक लोड बंट गया है। इसलिए असुरन से पादरी बाजार तक सड़क को टू लेन ही बनाया जाए।

डीएम कार्यालय पहुंचकर गीता श्रीवास्तव, उपेंद्र शुक्ला, मोहम्मद शहाबुद्दीन, दयाशंकर, चंद्रदीप, अवधेश गुप्ता, आफताब आलम, मोहम्मद मोहसिन खान, वीरेंद्र कुमार गुप्ता, विशाल गुप्ता, शिव कुमार गुप्ता, जय गुप्ता, हिमांशु यादव सहित अन्य लोगों ने बताया कि असुरन और राप्ती बाजार गोरखपुर शहर के सबसे पुराने बाजारों में से एक है। यहां करीब 400 से दुकानें हैं, जिन पर हजारों लोग आश्रित हैं। इसमें ऐसे कई व्यापारी हैं, जिनका घर और दुकानें एक ही भवन में हैं। इस सड़क पर अन्य सड़कों की तुलना में काफी कम ट्रैफिक लोड रहता है।

लोगों ने कहा कि बीते साल स्थानीय प्रशासन और व्यापारियों के बीच मौखिक बातचीत हुई थी। तब तय हुआ था कि इस रोड से अतिक्रमण हटाकर पूरी तरह से स्मार्ट रोड बनाकर व्यापारी के हितों की रक्षा की जाएगी। लोकसभा चुनाव के बाद इस मुद्दे पर शासन स्तर से बात करने का आश्वासन भी अधिकारियों ने दिया था। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि यदि असुरन से पादरी बाजार तक सिर्फ टू लेन सड़क बने तो किसी का नुकसान नहीं होगा। सरकार का मुआवजा भी बचेगा। लोगों ने अपनी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की मांग उठाई। इसके पहले प्रगतिशील अधिवक्ता मंच की ओर से भी दुकानों और मकानों को बचाने का अनुरोध प्रशासनिक अधिकारियों से किया गया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।