DA Image
1 दिसंबर, 2020|8:08|IST

अगली स्टोरी

दीपावली की तैयारी: चाइनीज झालरों का बहिष्कार, लोकल के लिए वोकल हुए कारोबारी 

चाइनिज झालर से सजाया गया तहसील भवन

दिवाली को लेकर शहर में तैयारियां जोरों पर शुरू हो गई हैं। बाजार सजावट वाले सामान से जगमगा उठे हैं। हमेशा की तरह इस बार भी दुकानें झालरों, लाइटों और दीयों से भरी पड़ी हैं। बैटरी वाली एलईडी कैंडल, एसएमडी स्ट्रिप लाइट, इलेक्ट्रिक लैनटर्न, एलईडी पाइप और देसी पट्टे पर बनी लाइट की खूब डिमांड है। चाइनीज झालरों के बहिष्कार में कारोबारी लोकल के लिए वोकल हो गए हैं।

पिछले साल तक 80 फीसदी बाजार पर चाइना के उत्पादों का कब्जा था। इस बार देसी और चाइनीज प्रोडक्ट का कब्जा 50-50 पर है। बाजार में सर्वाधिक मांग एलईडी कैंडल की है। छह रंग की रोशनी देने वाली यह कैंडल फुटकर में 20 रुपये प्रति पीस के हिसाब से बिक रही है। हालांकि थोक में इसकी कीमत करीब 15 रुपये तक है। बाजार में चाइनीज लाइट व झालरों को देसी प्रोडक्ट से कड़ी टक्कर मिल रही है। 

व्यापारियों का मानना है कि इस बार दीवाली पर शहर में करीब 20 करोड़ से अधिक की लाइट व झालरों की बिक्री होगी। घोषकंपनी से नखास की ओर जाने वाला कोतवाली रोड इन दिनों एलईडी लाइट्स व झालरों की मंडी बनी हुई है। बाजार में इस साल सजावट का सबसे महंगा आइटम एलईडी पाइप है, जो थोक में 50 रुपये और खुदरा में करीब 60 रुपये मीटर के हिसाब से बिक रहा है। व्यापारियों के मुताबिक इस बार बाजार पिछले साल के मुकाबले कुछ मंदा है। व्यापारियों के मुताबिक इन लाइट्स व झालरों में राइज, एलईडी, एलईडी मल्टी, स्टीक लाइट, रोप लाइट आदि की काफी डिमांड है। 

बोले कारोबारी
डिमांड को देखते हुए लाइट्स व झालरों की सभी रेंज मार्केट में आ चुकी हैं, लेकिन इस बार डिमांड कुछ कम दिख रही है। कुछ नए आइटम आए हैं, जिनकी डिमांड इस बार बढ़ी है। चीनी के मुकाबले लोग देसी प्रोडक्ट को पसंद कर रहे हैं।
पीयूष गुप्ता, रेती रोड

पहली बार देसी और चाइनीज प्रोडक्ट की बिक्री 50-50 है। बहुत से दुकानदारों के पास पुराने झालर बचे हुए हैं जिसकी बिक्री दुकानदारों की मजबूरी है। चीन और देसी प्रोडक्ट में 20 फीसदी का अंतर है। लेकिन देसी टिकाऊ है। 
आलोक गुप्ता, कोतवाली रोड

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:deepawali preparation boycott of chines lightning businessmen are vocal for local